मध्यप्रदेश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें

मध्यप्रदेश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें

पेट्रोल और डीजल की कीमतें लगातार आसमान छू रही हैं| महामारी ने लोगों की ऐसे ही कमर तोड़ दी है वही पेट्रोल डीजल की कीमतों में लगातार इजाफा होने की वजह से लोग परेशान हैं| 
जनता हित में बात करने वाले शिवराज सरकार में सबसे ज्यादा महंगा पेट्रोल डीजल मध्यप्रदेश में बिक रहा है| मध्य प्रदेश पेट्रोल और राजस्थान डीजल पर देश में सर्वाधिक टैक्स वसूला जाता है| यह जानकारी सोमवार को केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने लोकसभा में दी| एक लिखित जवाब में उन्होंने बताया कि मध्य प्रदेश पेट्रोल पर एक 30.55 रुपए प्रति लीटर वैट लगता है| लोकसभा सदस्य उदय प्रताप सिंह और रोडमल नागर ने पूछा था कि क्या सरकार पूरे देश में पेट्रोल डीजल की कीमतों को एक समान करने की योजना बना रही है?
जिस पर हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि पेट्रोल और डीजल के मूल्य स्थानीय वसूलीओं के कारण हर जगह अलग-अलग हैं| बता दें कि राजधानी भोपाल में पेट्रोल की कीमत 110रूपए पार पहुंच चुकी हैं| 
वहीं पेट्रोल डीजल की महंगाई को लेकर भाजपा सरकार कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा रही है| प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि मध्य प्रदेश में डीजल-पेट्रोल पर वैट कांग्रेस ने बढ़ाया जबकि उनके घोषणा पत्र में वैट कम करने का वचन दिया था। गलती कांग्रेस की है और पूछ हमसे रहे हैं। आखिर क्यों?
मध्यप्रदेश में हम लगातार देखते हैं कि इनके आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी रहता है पर इन सभी के बीच पिस जनता रही है|