मप्र विधानसभा सत्र: अध्यक्ष का चुनाव टला, तो कमलनाथ ने दे डाला ये बड़ा बयान, मचा बवाल

मप्र विधानसभा सत्र: अध्यक्ष का चुनाव टला, तो कमलनाथ ने दे डाला ये बड़ा बयान, मचा बवाल

भोपाल से खाईद जौहर की रिपोर्ट - कोरोना काल में होने वाले विधानसभा सत्र से पहले मंगलवार र्वदलीय बैठक बुलाई गई थी। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा समेत कई विधायक-मंत्री शामिल हुए। इस बैठक में फ़ैसला लिया गया कि विधानसभा सत्र एक दिन का होगा। 

विधानसभा सत्र में विपक्ष के सभी सवालों का जवाब दिया जाएगा। बजट पर चर्चा होगी। जबकि प्रश्नकाल और शून्यकाल नहीं होंगे। वहीं, विधानसभा अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव भी टाल दिए गए हैं।

इधर, अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के चुनाव टलने पर नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ ने इसको लेकर बड़ा बयान दिया। कमलनाथ ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 35 दिन बाद हम विधानसभा का स्पीकर बनाएंगे। 

बता दे कि कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए इस बार के विधानसभा सत्र में कई सदस्य और मंत्री सदन में नहीं दिखाई देंगे। सदस्यों का सत्र से पहले कोविड टेस्ट भी किया जाएगा। मालूम हो कि मुख्यमंत्री समेत 10 मंत्री और 28 विधायकों के कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। 

जबकि, प्रोटोकॉल के अनुसार सिर्फ 108 विधायक ही सत्र में हिस्सा ले सकते हैं।