मंत्री उषा ठाकुर पर लगा डकैती का आरोप, FIR की मांग, वन मंत्री विजय शाह ने दिए जांच के आदेश

मंत्री उषा ठाकुर पर लगा डकैती का आरोप, FIR की मांग, वन मंत्री विजय शाह ने दिए जांच के आदेश

मध्यप्रदेश/भोपाल - मध्य प्रदेश की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर पर डकैती का आरोप लगा हैं। ये आरोप वन विभाग के कर्मचारी नपाल राम सुरेश दुबे ने लगाए हैं।उन्होंने बड़गोंदा पुलिस थाने में इसके खिलाफ एक शिकायत आवेदन दिया हैं। इस आवेदन के बाद पुलिस विभाग और वन विभाग के हाथ-पांव फूले गए थे। दरअसल, मंत्री उषा ठाकुर और उनके समर्थकों पर जब्त की गई जेसीबी और ट्रैक्टर-ट्रॉली ले जाने का आरोप हैं। वनपाल राम सुरेश दुबे ने इस मामले में मंत्री सहित कई लोगों पर एफआईआर दर्ज कर जेसीबी ट्रैक्टर और ट्रॉली बरामद करने का आवेदन बड़गौंदा पुलिस को दिया हैं। 

 

 

ये है मामला

मामला क्षेत्र के आड़ा पहाड़ का है, जहां पिछले दिनों 10 जनवरी को बड़े पैमाने पर अवैध उत्खनन हो रहा था। बड़गौंदा बीट के कक्ष क्रमांक 66 में अवैध रूप से खुदाई की जा रही थी। शिकायत मिलने पर इस मामले में कार्रवाई करते हुए एक जेसीबी क्रमांक एमपी 41 एचई 05 76, ट्रैक्टर और ट्रॉली को जब्त कर प्रकरण कायम किया और इन वाहनों को वन परिसर में लाकर खड़ा कर दिया गया। 

इधर, बड़गौंदा पुलिस को दिए गए आवेदन में लिखा गया है कि 11 जनवरी को वनरक्षक जौहर सिंह ने सूचना दी थी कि मंत्री उषा ठाकुर, मनोज पाटीदार, सुनील यादव, वीरेंद्र आंजना, अमित जोशी सुनील पाटीदार, प्रदीप पाटीदार के साथ करीब 15 से 20 लोग वन परिसर में जबरन घुसे और जेसीबी और ट्रैक्टर-ट्रॉली अपने साथ ले गए। 

वहीं, शिकायत सामने आने के बाद अब वन मंत्री विजय शाह ने जांच के आदेश दिए हैं। यह जांच पीसीसीएफ स्तर के अधिकारी से कराई जाएगी। जानकारी के मुताबिक, जांच के लिए टीम का गठन भी कर दिया गया हैं। बताया जा रहा है की जांच दल आज महू के लिए रवाना होगा।