कहां है प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी? ये बताने वाले को मिलेगा 11 हजार 1 रुपए का इनाम... 

कहां है प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी? ये बताने वाले को मिलेगा 11 हजार 1 रुपए का इनाम... 

मध्यप्रदेश/भोपाल - प्रदेश में कोरोना करीब-करीब बेकाबू हो चुका हैं। बावजूद इसके प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी इन दिनों दमोह विधानसभा सीट के उपचुनाव में व्यस्त हैं। रविवार को भी उनकी प्रचार की तस्वीरें सामने आते ही कांग्रेस ने मुद्दा ढूंढ लिया और आक्रामक हो गई। अब कांग्रेस ने पूछा है स्वास्थ्य मंत्री कहां हैं? ये बताने वाले को 11 हजार 1 रुपए का इनाम दिया जाएगा। मंत्री प्रभुराम चौधरी के खिलाफ कांग्रेस के नेताओं ने एक के बाद एक ट्वीट और बयान जारी कर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को लेकर सवाल खड़े कर दिए। 

कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष सैयद जाफर ने ट्वीट कर पूछा है कि स्वास्थ्य मंत्री ने बीते 1 हफ्ते में प्रदेश के किस मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में कब और कहां बैठक ली। दमोह को छोड़ 1 सप्ताह में कहां पर बैठक हुई, इसका जवाब देने वाले को 11 हजार 1 रुपए का इनाम दिया जाएगा। 

वहीं, पूर्व मंत्री ने पूछा कि जब पूरे प्रदेश में कोरोना का संक्रमण तेजी के साथ फैल रहा है, तो ऐसे में स्वास्थ्य मंत्री कहां व्यस्त हैं। उन्हें यह बताना चाहिए। पीसी शर्मा ने कहा कि पूरे प्रदेश के अस्पतालों से अव्यवस्थाओं की खबर आ रही है लेकिन, स्वास्थ्य सेवाओं को सुधारने की बजाय मंत्री प्रभु राम चौधरी दमोह उपचुनाव में व्यस्त थे। 

इधर, कांग्रेस के मीडिया प्रभारी केके मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि कोरोना के कहर से एमपी में कोहराम मचा हुआ हैं। मौत का तांडव जारी है और गुमशुदा स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभु राम चौधरी दमोह में दिखाई दे रहे हैं। वह भी भाजपा की सभा को संबोधित करते हुए जहां लोग नहीं हैं। बिना मास्क के मंत्री चुनावी कार्यक्रम में व्यस्त हैं। 

बोल के लब आज़ाद हैं तेरे