सभी खबरें

व्यापम घोटाले के डॉक्टरों को इस गंभीर महामारी में देना चाहिए मौका – दिग्विजय सिंह

भोपाल से खाईद जौहर की रिपोर्ट – कोरोना संकटकाल (Corona Crisis) के बीच मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह (Shivraj Singh) को पत्र लिखा हैं। इस पत्र में दिग्विजय ने व्यापम घोटाले (Vyapam Scam) के डॉक्टर एवं अंतिम वर्ष के छात्रों को इस महामारी में अपनी सेवाएं देने की मांग की हैं।

दिग्विजय सिंह ने अपने पत्र में कहा कि मध्य प्रदेश के विभिन्न चिकित्सा महाविद्यालयों में वर्ष 2011 बैच के डॉक्टर (Doctor) की डिग्री पूरी हो गई है और कुछ अंतिम वर्ष में अध्ययनरत हैं। वह 2013-14 के दौरान प्रदेश में व्यापमं घोटाले में सामने आए थे। जिसकी जांच हुई तथा इन डॉक्टरों को भी संदिग्ध मानकर या तो इनकी डिग्री रोक दी गई और अंतिम वर्ष की परीक्षा से वंचित कर दिया गया था। ये सभी डॉक्टर मध्यप्रदेश के मूल निवासी हैं। इनके खिलाफ अभी तक कोई एफआईआर (FIR) दर्ज नहीं हुई है ना ही इनके खिलाफ कोई न्यायालय प्रकरण विचाराधीन हैं।

दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने आगे कहा की ऐसे सभी डॉक्टरों ने करोना महामारी के संकट के समय प्रदेश की जनता को अपनी सेवा देने की पेशकश की हैं। ये सभी युवा डॉक्टर प्रदेश की जनता को हॉट स्पॉट सहित सभी स्थानों पर अपनी सेवाएं निशुल्क देने को तैयार हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री ने मांग की के इस गंभीर महामारी के बीच इन युवा डॉक्टरों ने अपनी सेवाएं देने की बात कही हैं। सरकार को इसपर विचार करना चाहिए। और जल्द ही इस पर कोई फैसला लेना चाहिए।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button