सभी खबरें

दुसरे राज्यों में फंसे श्रमिकों के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने की अनुमति, बिहारियों कि करना होगा इंतज़ार

भोपाल 

कोरोना महामारी के कारण पूरा विश्व मानो थम सा गया है। भारत में भी लगातार कई दिनों से लॉकडाउन(Lockdown) चल रहा है। इसके बाद से अलग-अलग राज्यों में कई लोग फंसे हुए हैं। कोई छात्र है तो कोई मजदूर। केंद्र की तरफ से अलग-अलग राज्यों में फंसे लोगों के लिए एक बड़ी खबर आई है। केंद्र सरकार ने अपने घर से बाहर फंसे लोगों के लिए 6 'श्रमिक स्पेशल ट्रेन' (shramik special) चलाने की अनुमति दे दी है।

शुक्रवार को पीएम आवास पर एक बैठक हुई इसी बैठक के बाद इस बारे में फैसला लिया गया। इस मीटिंग में पीएम नरेंद्र मोदी के अलावा गृहमंत्री अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और पीएम मोदी के प्रधान सचिव पीके मिश्रा शामिल रहे। मीटिंग के तुरंत बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर कहा कि लॉकडाउन के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में फंसे नागरिकों को रेलवे द्वारा भेजे जाने की अनुमति देने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह को धन्यवाद। साथ ही उन्होंने कहा इस श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाकर घर से दूर हुए लोगों को उनकी मंजिल तक पहुंचाया जाएगा।

Lock Down के कारण विभिन्न हिस्सों में फंसे नागरिकों को रेलवे द्वारा भेजे जाने की अनुमति देने के लिये PM @NarendraModi जी व HM @AmitShah जी का धन्यवाद।

रेलवे 'श्रमिक स्पेशल ट्रेन' चला कर घर से दूर हुए लोगों को उनकी मंजिल तक पहुंचाना सुनिश्चित करेगी।

📖 https://t.co/duvkL6QOC3 pic.twitter.com/Hv3cK7vdYw

— Piyush Goyal (@PiyushGoyal) May 1, 2020

“>http://

सभी जोन के लिए निर्देश 
रेल मंत्रालय ने अपने सभी जॉन्स के लिए अलग-अलग निर्देश जारी कर दिए। सभी जॉन से कहा गया है के सभी राज्यों से उनकी डिमांड का पता करें अगर सब कुछ ठीक रहता है तो आज या कल में कई और स्पेशल ट्रेन शुरू की जा सकती है। हालांकि बिहार के बिहार के बाहर फंसे लोगों के लिए अभी तक कोई उम्मीद नहीं जगी है क्योंकि बिहार के सीएम नीतीश कुमार अभी तक पहाड़ पर से मजदूरों को लाने के लिए राजी नहीं हुए हैं।

केंद्रीय गृह मंत्रालय (एमएचए) ने रेल मंत्रालय द्वारा चलाई जाने वाली विशेष ट्रेनों से देश भर में विभिन्न स्थानों पर फंसे प्रवासी श्रमिकों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों, विद्यार्थियों और अन्य व्यक्तियों की आवाजाही की अनुमति देने का आदेश जारी किया है। रेल मंत्रालय इन लोगों की आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के साथ समन्वय के लिए नोडल अधिकारी निर्दिष्‍ट करेगा। रेल मंत्रालय इसके अलावा टिकटों की बिक्री; रेलवे स्टेशनों एवं रेल प्लेटफॉर्मों पर तथा ट्रेनों के भीतर सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने और अन्य सुरक्षा उपायों पर अमल के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश भी जारी करेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button