सभी खबरें

"शिव राज सरकार" की सबसे बड़ी सर्जरी, देर रात किये 50 सीनियर "आईएएस" अफसरों के तबादलें, देखें पूरी सूची

मध्यप्रदेश/भोपाल से खाईद जौहर की रिपोर्ट – मध्यप्रदेश में सियासी बवाल थमने का नाम ही नहीं ले रहा हैं। जहां इस समय प्रदेश कोरोना जैसी गंभीर महामारी से झुंझ रहा है, वहीं प्रदेश सरकार प्रशासनिक सर्जरी करने में लगी हुई हैं।

सत्ता में आने के बाद से ही शिवराज सरकार लगातार तबदलें कर रहीं हैं। साथ ही पूर्व की कमलनाथ सरकार में हुई नियुक्तियों को निरस्त कर रहीं हैं। लेकिन इसी बीच अब शिवराज सरकार ने अपनी सबसे बड़ी सर्जरी को अंजाम दिया हैं। शनिवार देर रात सरकार ने 50 सीनियर आईएएस अफसरों का तबादला किया हैं।

शिवराज सिंह चौहान ने पूर्व में अपने पसंद के और बाद में मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के पसंदीदा बने अफसरों को लूपलाइन में भेजा हैं।

एक साथ 50 आईएएस अधिकारियों के तबादलों से सूबे की सियासत गरमा गई है कांग्रेस ने बीजेपी और शिवराज सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कोरोना महामारी की इस बड़ी आपदा के बीच भी सरकार ट्रांसफर उद्योग में लगी हैं। वहीं, बीजेपी ने इसका पलटवार करते हुए कहा है कि कांग्रेस को इस तरीके के आरोप लगाने से पहले अपने गिरेबान में झांकना चाहिए।

जानिए किस को कहा भेजा

  • पूर्व मुख्य सचिव एम गोपाल रेड्डी को अध्यक्ष राजस्व मंडल बनाया गया हैं।
  • संचालक स्वास्थ्य सुदामा खाडे को अपर सचिव और आयुक्त जनसंपर्क के अतिरिक्त प्रभार दिए गए हैं।
  • महिला एवं बाल विकास विभाग के पीएस अनुपम राजन को उच्च शिक्षा के साथ जनसंपर्क का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया हैं।
  • सरकार ने जनसंपर्क आयुक्त पी नरहरि को राज्य सहकारी विपणन संघ भेजा है।
  • एसीएस आईपीसी केसरी को वाणिज्यक कर से हटाकर एनवीडीए में भेज दिया हैं।
  • नरहरि के पास नगरीय प्रशासन का अतिरिक्त प्रभार हैं।
  • नीरज मंडलोई को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देते हुए लोक निर्माण विभाग की जिम्मेदारी दी गई हैं।
  • प्रमुख पल्लवी जैन गोविल को भी स्वास्थ्य विभाग से हटाकर आदिम जाति कल्याण विभाग भेजा गया है।
  • कांग्रेस सरकार में भोपाल कमिश्नर रहीं कल्पना श्रीवास्तव को उद्यानिकी विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।
  • अशोक शाह को महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रमुख सचिव की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई है।
  • आबकारी आयुक्त राजेश बहुगुणा को भी राजस्व मंडल का सदस्य बनाया गया हैं।
  • इधर, संजय दुबे को नगरीय विकास विभाग से हटाकर ऊर्जा विभाग, संजय शुक्ला को उद्योग और नीतेश व्यास को नगरीय विकास विभाग के प्रमुख सचिव की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दी गई हैं।
  • इसके अलावा कांग्रेस सरकार मुख्य सचिव बनाए गए एम गोपाल रेड्डी को लूप लाइन माने जाने वाले राजस्व मंडल का अध्यक्ष बनाकर ग्वालियर भेज दिया गया है।

देखे सूची

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button