कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया का बयान पार्टी के लिए बना मुसीबत, 10 कांग्रेसियों ने दिया इस्तीफा, मचा हड़कंप

कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया का बयान पार्टी के लिए बना मुसीबत, 10 कांग्रेसियों ने दिया इस्तीफा, मचा हड़कंप

भोपाल से खाईद जौहर की रिपोर्ट - भांडेर विधानसभा सीट (Bhander Assembly Seat) से कांग्रेस प्रत्याशी फूल सिंह बरैया नेे कुछ दिनों पहले एक विवादित बयान दिया था। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेज़ी के साथ वायरल हुआ था। अब वोही बयान फूल सिंह बरैया के लिए मुसीबत का सबब बन गया हैं।

बता दे कि उनके आपत्तिजनक बयान को लेकर स्थानीय कांग्रेस नेताओं (Congress leaders) में अब भी गुस्सा हैं। यही कारण है कि इसके विरोध में 10 कांग्रेसियों ने इस्तीफा दे दिया है, जिसके बाद पार्टी में हड़कंप मच गया हैं।

जिन 10 कांग्रेसियों ने इस्तीफा दिया है उनमें कार्यवाहक ब्लॉक अध्यक्ष, इंदरगढ़ शिवरमण सिंह राठौर, लोकेंद्र सिंह दांगी उनाव ब्लॉक अध्यक्ष, महिपाल सिंह गुर्जर जिला अध्यक्ष पिछड़ा वर्ग कांग्रेस एवं कार्यवाहक ब्लॉक अध्यक्ष इंदरगढ़, कमला दिवाकर यादव कार्यवाहक ब्लॉक अध्यक्ष सेंवढ़ा, ऋतुराज मिश्रा टुनटुन महाराज सचिव शहर कांग्रेस, मानवेंद्र सिंह यादव मंडलम अध्यक्ष दुरसड़ा, राजासिंह यादव उड़ीना, आत्माराम दांगी मंडल अध्यक्ष कामद, वीरसिंह कुशवाह बीकर और सुग्रीव यादव उनाव शामिल हैं।

क्या था फूल सिंह बरैया का बयान

एक जनसभा को संबोधित करते हुए फूल सिंह बरैया ने कहा था कि अभी भी वक्त है, अनुसूचित जाति वर्ग के लोगों को जाग जाना चाहिए वरना सवर्ण देश को हिंदू राष्ट्र बना देंगे। मुसलमानों से भारत छोड़ने की बात करने वाले सवर्णों को पहले खुद देश छोड़ना चाहिए क्योंकि वह मुसलमानों के बाद भारत आए हैं। अनुसूचित जाति के लोग और मुसलमान एक ही पिता की संतान हैं, चाहे तो डीएनए टेस्ट करा लिया जाए।

खास बाग ये है कि चुनाव आयोग ने इस वीडियो को पुराना बताया था और क्लीन चिट दे दी थी। लेकिन नेताओं का कहना है कि बरैया का बयान समाज को तोड़ने वाला है, बावजूद इसके पार्टी ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की हैं।

बहरहाल, एक दम 10 नेताओ के इस्तीफे के बाद से पार्टी में हड़कंप मच गया हैं।