सभी खबरें

जबलपुर :- बेटी के मौत के बाद पिता ने लगाया ससुराल वालों पर उत्पीड़न का आरोप, जानिए क्या है पूरा मामला

जबलपुर से अजय पिंटू शुक्ला की रिपोर्ट:- जबलपुर का एक बेहद दर्दनाक मामला सामने आया है. जिसमें एक विवाहिता की मौत हो गई है. एक पिता के लिए वह वक्त कितना कठिन होगा जिसकी बेटी कुछ दिन पूर्व शादी करके ससुराल जाए और वापस उसकी अर्थी आए… 

 यह मामला न्यू कंचनपुर का है. जहां पर एक पीड़ित पिता का आरोप है कि उसकी बेटी को ससुराल वालों ने उत्पीड़न कर मार डाला. रेखा प्यासी का विवाह लगभग 10 वर्ष पूर्व हुआ था. पिता का कहना है कि मेरी पुत्री को विवाह के बाद से ही मानसिक उत्पीड़न दिया जाता था. पर परिवार वाले लगातार उसे समझाते रहते. जिसके बाद कुछ वक्त बाद लड़की का जीवन सुखद हो गया. पर जब रेखा के देवर की शादी हुई तो फिर से घर में कलह क्लेश का माहौल व्याप्त हो गया. रेखा पर लगातार चोरी, घर के काम ना करना इत्यादि आरोप लगाए जा रहे थे जिसके बाद एक दिन रेखा हार गई और उसने जहर का सेवन कर लिया

पिता ने लगाई है प्रशासन से उत्पीड़न करने वालों के खिलाफ गुहार जानिए चिट्ठी में क्या लिखा:-

जबलपुर के आधार ताल थाना अंतर्गत न्यू कंचनपुर का मामला वीरेंद्र बाजपेई द्वारा अपने दामाद सुधांशु प्यासी देवर राहुल प्यासी एवं देवरानी करिश्मा प्यासी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज किए जाने यह कि यह की पुत्री रेखा प्यासी का विवाह लगभग 10 वर्ष पूर्व  सुधांशु प्यासी पिता संजय प्यासी निवासी गौरी शंकर मंदिर के पास कटरा अधारताल में हिंदू रीति रिवाजों से परिवार वालों की एवं रिश्तेदारों की मौजूदगी में संपन्न हुआ था यह कि विवाह के बाद से ससुराल वालों के द्वारा मेरी पुत्री को मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जाता रहा परंतु हम लोगों के द्वारा पुत्री को समझाया जाता था जिसके चलते उनका वैवाहिक जीवन खुश में हो गया परंतु लगभग 4 वर्ष तक उनका जीवन बड़ा ही सुखमय रहा उनके परिवार में जैसे ही उनके छोटे लड़के राहुल प्यासी का विवाह हुआ उसके बाद से ही मेरी पुत्री रेखा प्यासी के जीवन में संकट आ गया यह कि राहुल प्यासी की शादी के बाद रेखा के पति,  देवर, देवरानी के द्वारा मेरी पुत्री रेखा प्यासी के ऊपर कई प्रकार से मानसिक एवं शारीरिक शोषण किया जाने लगा जैसे झूठी चोरी का आरोप लगाना खाना बनाने में कमी निकालना घर का काम ना करना गंदे गंदे लांछन लगाना ऐसे कार्यों को लेकर उसे कई तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाने लगा यह की मेरी पुत्री के द्वारा कई बार घर उसने अपनी मां को बताया और मेरे को भी बताया मैंने यह कहकर ऐसी छोटी मोटी बात पर परिवार में होती रहती है उसने हम लोगों को हमने समझाने का भी प्रयास किया और कहा कि अपने परिवार के साथ रहती रहो इसी बीच उसने अपने पति से अलग रहने की बात कही तो उनके पिता संजय प्यासी ने  कहा कि जो भी इस घर से छोड़कर जाएगा उसे इस मकान में कोई भी हिस्सा नहीं मिलेगा जिसके कारण मेरे पति द्वारा अलग रहने से मना कर दिया एवं इन सब लोगों द्वारा मेरी पुत्री को इतना अत्याधिक प्रताड़ित किया गया कि उसने इस जीवन में जीने की इच्छा ही त्याग दी यह कि मेरी पुत्री का एक बेटा भी है जिसका नाम रुद्रा प्यासी उम्र 8 वर्ष है तथा अब इन लोगों के द्वारा मेरे नाती को भी जान से मारने का खतरा मंडरा रहा है यह की 5. 5. 2020 को लगभग 10 बजे की बात हो उसने हम लोगों को फोन करके यह बताया कि मेरे पति देवर देवरानी ने मुझे चोरी करने की बात पर खूब मारा तथा जबरजस्ती मुझे चोरी करने को कहा तथा उसके पहले ही कई बार मुझ पर झूठे चोरी के आरोप लगाए गए तथा में अब इन सब से लोगों से परेशान हो चुकी हूं और अब मैं अपना जीवन समाप्त करना चाहती हूं एवं 5. 5.2020 को मुझे यह बात पता चली कि मेरी लड़की ने जहर का सेवन कर लिया तो उसे लेकर परिवार वाले माडेज हस्पताल अधारताल लेकर गए हैं और इलाज करवा रहे हैं जिस पर मेरी पुत्री ने अपने कथन दिया और बताया कि अपने पति देवर देवरानी से परेशान होकर आत्महत्या कर रही हूं मेरी पुत्री के बाद आप मेरे नाती का जीवन भी संकट में हो गया है एवं घर पर मैं अकेला रहता हूं मेरा एक बेटा है जो दिल्ली में लाख डाउन की वजह से वही फसा है। 

 इस वक्त जहां देश में महामारी की वजह से पूरा देश मुसीबतों का सामना कर रहा है तो वहीं दूसरी तरफ घरेलू उत्पीड़न के मामले बढ़ गए हैं. इस वक्त घर में महिलाओं का उत्पीड़न किया जा रहा है. प्रशासन को ऐसे दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्यवाही करने की आवश्यकता है ताकि रेखा की तरह कई रेखा मौत के मुंह में समाने से बच जाएं. 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button