सभी खबरें

जबलपुर :- संक्रमित मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 100 के करीब, आज हुई दूसरी मौत

  • जबलपुर में आज कोरोना से दूसरी मौत
  • एक और रिपोर्ट पॉजिटिव आयी, 99 पहुँचा मरीजों का आंकड़ा

जबलपुर:- मध्य प्रदेश में लगातार मरीजों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. तो वहीं आज जबलपुर में को रोना से दूसरी मौत हुई है. आज मेडिकल कालेज परिसर स्थित सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के कोविड-19 वार्ड में भर्ती कोरोना के मरीज RK पाण्डेय, 61 निवासी विजयनगर की रविवार- सोमवार दरम्यानी रात मौत हो गयी।

 जिसके बाद जिले में कोरोना से जान गंवाने वाले मरीजों की संख्या 2 हो गयी है। आपको बता दें कि मृतक पाण्डेय को 26 अप्रैल को कोरोना वार्ड में भर्ती कराया गया था। वे 20 मार्च को फ्लाइट से बैंगलोर से आए थे। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग द्वारा उन्हें होम आइसोलेट किया गया था. पर आज उनकी मौत हो गई.

कोरोना रिपोर्ट आने के 5 दिन पूर्व घर मे फिसलकर गिर जाने के कारण उनकी कमर की हड्डी टूट गयी थी। पत्नी उन्हें लेकर निजी अस्पताल गयी थी। जहां डॉक्टर ने कोरोना जांच की सलाह दी थी। जबकि उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे।

RK पाण्डेय विजयनगर में अपनी पत्नी के साथ रहते हैं उनके बेटे बेंगलुरु में रहते हैं.
इधर NIRTH से देर रात जारी सैम्पलों की रिपोर्ट में कोरोना का एक और मरीज सामने आया। नगीना मस्जिद गोहलपुर निवासी एवम कृषि उपज मंडी में फल विक्रेता मोहम्मद शाहनवाज कोरोना से संक्रमित मिला। वह कोरोना से 19 अप्रैल को मृत शाजदा बेगम की कोरोना पॉजिटिव बेटी के संपर्क में था। शाहनवाज को सुखसागर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में आइसोलेशन में रखा गया था। जहां से सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल भेजा गया। इधर जिले में अब तक कोरोना मरीजों की संख्या 99 पहुँच गयी है। जिसमे 2 की मौत तथा 12 स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं।

 प्रदेश में स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है. आज से लॉक डाउन 3.O शुरुआत हुई है.. पर प्रदेश की हालत सुधरने की बजाए खराब होती जा रही है. ऐसे में सरकार लगातार जनता से अपील कर रही है कि सभी लॉक डाउन के नियमों का पालन करें. श्रमिकों को घर वापसी हेतु स्पेशल ट्रेन की व्यवस्था की जा रही है. 

 कल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशवासियों के संबोधन में कहा कि यह कोरोना कब खत्म होगा उसका कुछ पता नहीं है जरूरत है हमें अपने अंदर संयम रखने की. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button