सभी खबरें

राणा का वादा! हम तो डूबेंगे सनम मगर तुम्हे भी ले डूबेंगे!

 

भोपाल: वित्तीय शंकट से जूझ रहे यस बैंक में कई सरकारी और गैर सरकारी संस्थाओं के पैसे जमा हैं और आरबीआई के गाइड लाइन के अनुसार एक महीने के अंतराल में किसी भी खाते से 50 हजार से ज्यादा की निकासी की मनाही है। ऐसे में बहुत से विकास कार्य रुके हुए हैं।

ताजा मामला भोपाल नगर निगम से जुड़ा हुआ है। यस बैंक में नगर निगम का भी एक खाता है जिसमे लगभग 40 करोड़ रूपए जमा हैं। इसके बाद भी कर्मचारियों को तनख्वाह नहीं मिल पा रही है। दरअसल आदमपुर छावनी में कचरे से बिजली बनाने के लिए एस्सेल इंफ़्रा के साथ एक अनुबंध के तहत एस्क्रो अकाउंट खोला गया था जिसमे तक़रीबन 40 करोड़ रूपए जमा किये गए थे। फ़िलहाल यह साफ नहीं हो पाया है कि नगर निगम यह रकम कैसे मिलेगी।

निगम के अपर आयुक्त एजे एक्का ने बताया कि नगर निगम की तरफ से आरबीआई को पत्र लिखा गया है। आरबीआई ने आश्वस्त किया गया है कि नगर निगम को ये रकम मुहैया करा दी जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button