सभी खबरें

अब भारत में कोविड-19 के मरीजों का रिकवरी रेट 24 फीसदी से ज्यादा हुआ निति आयोग CEO

भारत   इस समय कोविड-19 (Covid -19 )  महामारी के प्रकोप का सामना कर रही है। भारत में भी हर गुजरते दिन के साथ के नए कोविड -19  मरीज सामने आ रहे हैं। अभी तक मरीजों की संख्या 33  हजार हो  चुकी है।इन मुश्किल हालातों के समय थोड़ी राहत पहुंचाने वाली खबर भी सामने आई है। नीति आयोग के सीईओ (CEO ) अमिताभ कांत  का बयान सामने आया है उन्होंने कहा है कि कोविड-19  मरीजों के रिकवरी रेट में सुधार हुआ है। यह बढ़कर 24.56 % प्रतिशत पर पहुंच गया है।और  कहा कि 19 अप्रैल को रिकवरी रेट 15 प्रतिशत था जो 29 अप्रैल को 24.56 प्रतिशत हो गया है।

 नीति आयोग अध्यक्ष अमिताभ कांत ने इसके साथ उन सभी  राज्यों और जिलों पर लगातार काम करने पर जोर दिया है जहां पर कोविड -19  मामलों का ज्यादा दबाव है वहां अब भी रिकवरी रेट के बेहतर होने की जरुरत है।अभी तक  दिल्ली सहित एमपी, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र, बिहार के कुछ जिलों में कोरोना (Corona ) का जमकर कहर है।

अमिताभ कांत ने ट्वीट करते हुए कहा कि 'यह खुशी की बात है कि कोविड-19 के 7700 से ज्यादा मरीजों की रिकवरी हो चुकी है, हमारा रिकवरी रेट सुधरा है। यह 19 अप्रैल को 15% प्रतिशत था, जो कि 26 अप्रैल को 19.02% प्रतिशत हुआ और अब तक 24.56% प्रतिशत हो गया   है।' कोविड -19 मरीजों की संख्या देश में 33  हजार को पार कर गई है, इस घातक बीमारी से देश में अब तक 1 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

3 मई तक है लॉकडाउन

कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए 24 मार्च के बाद लॉकडाउन किया था।पहले इसकी अवधि 14 अप्रैल रखी गई थी परतु संक्रमण की स्थिति न सुधरने के बाद भारत  देश में लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए आगे बढ़ा दिया था।कहा जा  रहा है कि 3 मई के बाद भी सरकार लॉकडाउन में पूरी तरह से रियायत नहीं देगी| कहा जा रहा है कि   चरण बद्ध तरीके से लॉकडाउन को हटाया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button