सभी खबरें

जबलपुर  :  घायलों को कंधे एवं गोद में उठाकर मेडिकल पहुंचाने वाले पुलिस अधिकारी कर्मचारियों को पुलिस महा निरीक्षक ने किया सम्मानित  देखें  video 

जबलपुर  :  घायलों को कंधे एवं गोद में उठाकर मेडिकल पहुंचाने वाले पुलिस अधिकारी कर्मचारियों को पुलिस महा निरीक्षक ने किया सम्मानित  देखें  video 

  • मानवता की पेश की मिसाल, सहायक उप निरीक्षकों नगद राशि एवं प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित
  •  देखें  video –https://fb.watch/1QMvyBSxXn/

द लोकनीति डेस्क जबलपुर
चरगवां थाना अंतर्गत मंगलवार सुबह कोहला गांव में मजदूरों को बैठाकर पिकअप वाहन का चालक मटर तुड़वाने के लिए शहपुरा जा रहा था। तेज रफ्तार लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए वाहन चालक ने पिकअप को पलटा दिया। जिससे वाहन में सवार 29 मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर थाना प्रभारी चरगवां रितेश कुमार पांडे, सहायक उप निरीक्षक संतोष सेन, लेख राम पटेल, आरक्षक अशोक यादव, राजेश मेहरा, अंकित मेहरा को लेकर मौके पर पहुंचे। सभी 29 घायलों को हंड्रेड डायल वाहन से चरगवां थाने के पुलिस वाहन और स्थानीय लोगों की दो कार के साथ 108 एंबुलेंस की मदद से सभी को उपचार के लिए मेडिकल कॉलेज भिजवाया गया। मेडिकल कॉलेज पहुंचने पर घायलों की संख्या अधिक होने और स्ट्रेचर कम होने के कारण थाने में पदस्थ पुलिस स्टाफ ने घायलों को स्वयं के कंधे एवं गोद में उठाकर मेडिकल कॉलेज की कैजुअल्टी तक पहुंचाते हुए मानवता की अनूठी मिसाल पेश की।


पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों की इस उल्लेखनीय कार्य की सराहना करते हुए पुलिस महा निरीक्षक जबलपुर जोन भगवत सिंह चौहान ने पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा की उपस्थिति में मानवता की मिसाल पेश करने वाले थाने में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक संतोष सेन लेख राम पटेल आरक्षक अशोक यादव राजेश मेहरा अंकित मेहरा द्वारा जीवन रक्षक की कर्तव्य की सराहना करते हुए प्रत्येक को 1000-1000 रूपये के पुरस्कार से पुरस्कृत करते हुए प्रशंसा पत्र प्रदान किया इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल, नगर पुलिस अधीक्षक बरगी रवि चौहान एवं पुलिस महा निरीक्षक कार्यालय का स्टाफ उपस्थित था। इसके पहले मानवता की मिसाल पेश करने वाले चरगवां थाने में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक संतोष सेन लेख राम पटेल आरक्षक अशोक यादव राजेश मेहरा अंकित मेहरा को नगद 500-500 रूपये के पुरस्कार से पुरस्कृत करते हुए सम्मान स्वरूप प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया था। सहायक उप निरीक्षक संतोष सेन को वर्ष 2006 में नरसिंहपुर में पदस्थापना के दौरान पवन यादव नाम के बदमाश ने दाहिने कंधे में गोली मार दी थी जिससे सहायक उप निरीक्षक संतोष सेन का दाहिना हाथ ठीक तरीके से काम नहीं करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button