सभी खबरें

बड़ा फैसला : निजी कंपनियों और राज्य सरकारों के कर्मचारियों को भी मिलेगा LTC कैश वाउचर का लाभ

 केंद्र सरकार के कर्मचारियों के अलावा निजी कंपनियों और तमाम राज्य सरकारों के कर्मचारियों को भी मिलेगा LTC का फायदा .

नई दिल्ली/भारती चनपुरिया : –   केंद्र सरकार ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला किया है. वित्त मंत्रालय (Finance Ministry) ने बताया  कि LTC  कैश वाउचर स्कीम (LTC Cash Voucher Scheme) का फायदा केंद्र सरकार के कर्मचारियों के अलावा निजी कंपनियों और तमाम राज्य सरकारों के कर्मचारियों को भी मिलेगा.

केंद्रीय कर्मचारियों की तरह इन कर्मचारियों को भी मान्य LTC  फेयर के इनकम टैक्स में छूट देने का फैसला किया गया है. हालांकि अधिकतम 36 हजार रुपये इनकम टैक्स में छूट दी जाएगी.

सीबीडीटी ने कहा कि कर्मचारियों को आयकर में ये छूट तभी मिलेगी, जब वह 2018-21 के LTC  के बदले इस विकल्प को चुनता है। साथ ही ये भी कहा है कि कर्मचारी को मान्य LTC  फेयर का कम से कम 3 गुना पैसा ऐसे सामान खरीदने पर खर्च करना होगा, जिन पर कम से कम 12 फीसदी GST लगता हो। ये भुगतान डिजिटल रूप से 12 अक्टूबर 2020 से 31 मार्च 2021 के बीच करना होगा। उस कर्मचारी के पास GST नंबर वाला वाउचर भी होना चाहिए और इस बात का भी सबूत होना चाहिए कि उसने कितने GST का भुगतान किया है।

अब एक उदाहरण से समझिए पूरा गणित : –

अगर किसी का मान्य LTC  फेयर 20,000*4= 80,000 रुपये है तो उसे 80,000*3= 2,40,000 रुपये खर्च करने होंगे। जो कर्मचारी दिए गए समय में इतने पैसे खर्च करेंगे, उन्हें ही पूरा LTC  फेयर मिलेगा और उस पर आयकर का लाभ उठा सकेंगे। हालांकि, अगर वह कर्मचारी सिर्फ 1,80,000 रुपये ही खर्च करता है तो वह 75 फीसदी LTC  (60,000) मिलेगा और कर्मचारी उसी पर आयकर का फायदा उठा सकेगा। अगर उस कर्मचारी को नियोक्ता की तरफ से एडवांस में ही पूरे 80,000 रुपये मिल चुके हैं तो उसे 20 हजार रुपये नियोक्ता को वापस करने होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button