भोपाल : बस के ड्राइवर के बर्ताव का फिटबैक देंगे यात्री.

भोपाल : बस के  ड्राइवर के बर्ताव का फिटबैक देंगे यात्री.

भोपाल : बस के  ड्राइवर के बर्ताव का फिटबैक देंगे यात्री.

  • बस में लगाए जाएंगे क्यूआर कोड.    
  • व्यक्तियों को सुधारने का प्रयास.  
  • अच्छे व्यवहार वालो को मिलेंगा पुरूस्कार.  

भोपाल निकिता सिंह : राजधानी भोपाल में क्राइम को कम करने के लिए एक तरह का प्रयास किया जा रहा है। बस के ड्राइवर का व्यवहार जानें  के लिए बस में लगाया जाएंगे क्यूआर कोड.जिसके जरिये बस में सवार यात्री कंडेक्टर और ड्राइवर का व्यवहार बता सकेंगे। यात्री क्यूआर कोड को अपने मोबाइल  से स्कैन करेंगे जिसके जरिये उनके मोबाइल में कुछ सवाल पूछे जायेंगे।इस सवालों के माध्यम से यात्री  ड्राइवर और कंडेक्टर के बर्ताव पर प्रक्रिया जी जाएँगी।बस में बैठे यात्री की इस प्रतिक्रियाओं को बीसीएलएल बस ऑपरेशन के माध्यम से मॉनिटर किया जाएंगे। इसी तरह पता चलेंगे की ड्राइवर का  व्यवहार ठीक है या नहीं।

इसी सप्ताह में होगी शुरुआत.
 बीसीएलएल बस ऑपरेशन की शुरुआत मार्च के इसी सप्ताह में शुरू की जाएंगे. जिसे तैयार करने के लिए आधा दर्जन सवाल दर्ज किये जायेंगे। लो-फ्लोर बस में इस तरह से कोड लगाया जाएंगे कि यात्री  आराम से उसे स्कैन कर पाएंगे। इसमें पूछे गए सवालो के जवाब हाँ  या न में देने होंगे. ताकि सफर के दौरान ही यात्री उसका जवाब दे सकें.

यात्रियो के सफर को बेहतर बनाने का प्रयास.   
सफर बेहरत बनाने के लिए यह कार्यवाही की जा रही है ताकि कभी भी किसी को कोई परेशानी का सामना न करना पड़े भारत की बेतिया भी सफर करते समय अपने आप को मेह्फूस महसूस कर सकेंगी।
 बस ड्राइवर और कंडेक्टर के अच्छे व्यवहार से उन्हें पुरूस्कार दिया जाएंगे।