महात्मा पर सियासत: महात्मा गांधी से बड़ा हिन्दू कोई नहीं था- दिग्विजय सिंह, ऐसी घटना बर्दाश्त नही की जाएगी- नरोत्तम मिश्रा

महात्मा पर सियासत: महात्मा गांधी से बड़ा हिन्दू कोई नहीं था- दिग्विजय सिंह, ऐसी घटना बर्दाश्त नही की जाएगी- नरोत्तम मिश्रा

महात्मा पर सियासत: महात्मा गांधी से बड़ा हिन्दू कोई नहीं था- दिग्विजय सिंह, ऐसी घटना बर्दाश्त नही की जाएगी- नरोत्तम मिश्रा
भोपाल/राजकलम पांडे।
जिन संगठनों को, जिन दलों को, जिन नेताओं को कोई न जानता हो वह सर्वप्रथम यही काम करता है कि देश के लौह पुरूषों पर अनाप-शनाप टिप्पणी करके या उनका निरादर करके चर्चाओं में आ जाते हैं. ठीक उसी प्रकार ग्वालियर से हिंदू महासभा ने भी किया, जहां उन्होंने गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का महिमामंडन किया. और गोडसे के नाम पर ज्ञानशाला खोल दी. कहा जा रहा है कि गोडसे के ज्ञानशाला में युवाओं को गोडसे की विचाराधारा को पढ़ाया जाएगा. जिस पर प्रदेश के गृहमंत्री ने कहा ‘‘ऐसी हरकत बर्दाश्त नही की जायेगी.’’ वहीं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि ‘‘गांधी से बड़ा कोई हिंदू नहीं था जो सीने में गोली लगने बाद भी मुंह से (हे राम) निकला, नाथूराम गोडसे देशद्रोही था जिसने गांधी के सीने में गोली मारकर हत्या की थी, गोडसे देश  का पहला आतंकवादी था.’’
इसके पहले भी गांधी को लेकर भाजपा पदाधिकारी एवं भाजपा के सहयोगी संगठन कई बार ओछी हरकत व अभद्र टिप्पणी कर चुके हैं. एवं माफीनाम की भी कई बार नौबत आ चुकी है. अपितु हर बार ऐसी ही स्थियाँ देश के सामने आती जहां देशवासियों को गोडसे जैसे देशद्रोही के महिमामंडन को देख कर सब कुछ सहन करना पड़ता है.