जागते रहोताज़ा खबरेंपॉलिटिकल डोज़मेरा देशराज्यों सेलोकप्रिय खबरेंसभी खबरें

MP: इस कारण से बिजली व्यवस्था हुई ठप: बिजली कर्मचारियों ने ऊर्जा मंत्री पर लगाए ये आरोप

भोपाल। मध्यप्रदेश में राजनीती के घमासान के साथ साथ हड़ताल का दौर जारी है। एक बार फिर राजधानी भोपाल में बिजली कर्मचारियों की हड़ताल के बीच ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का बयान सामने आया। उन्होंने कहा कि बात हड़ताल से नहीं टेबल पर बैठकर करनी चाहिए। हर व्यक्ति को अपनी बात करने का अधिकार है। हड़ताल प्रगति के विकास का अवरोध है, प्रदेश के विकास में हमे अवरोध नहीं बनना चाहिए। वहीं कर्मचारियों ने कहा कि ऊर्जा मंत्री सिर्फ आश्वासन देते हैं, जब तक मांगे पूरी नहीं होगी तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

ये है कारण
आपको बता दें कि प्रदेशभर में बिजली कंपनी के आउटसोर्स और संविदा कर्मचारियों की बीते 3 दिन से हड़ताल जारी है। MP में करीब 50 हजार से अधिकर कर्मचारी काम बंद कर धरना कर रहे है। जिसका कई बिजली कर्मचारी और अधिकारियों ने समर्थन किया है। कर्मचारियों की मांग है कि संविदा कर्मचारियों का नियमितीकरण, आउटसोर्स कर्मचारियों का विभागीय संविलियन वेतन वृद्धि और पुरानी पेंशन योजना लागू की जाए। इसे लेकर बिजली कर्मचारी कामबंद हड़ताल पर है।

कर्मचारियों का कहना
वहीं बिजली कर्मचारियों का कहना हैं कि ऊर्जा मंत्री से पिछले एक साल से बातचीत कर रहे है। और सिर्फ आश्वासन देते हैं। हम नहीं चाहते कि मध्यप्रदेश की बिजली व्यवस्था ठप हो। ऊर्जा विभाग के कारण प्रदेश की जनता परेशान होगी। बिजली कर्मचारियों ने कहा कि जब तक मांगे पूरी नहीं होगी, तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button