गाडरवारा:- कोरोना काल में ना हो पाए शिक्षा प्रभावित, मोहल्ला कक्षाओं से हो रही पढ़ाई

गाडरवारा:- कोरोना काल में ना हो पाए शिक्षा प्रभावित, मोहल्ला कक्षाओं से हो रही पढ़ाई

गाडरवारा:- कोरोना काल में ना हो पाए शिक्षा प्रभावित, मोहल्ला कक्षाओं से हो रही पढ़ाई


 नरसिंहपुर से दीपक अग्रवाल की रिपोर्ट:-  प्रदेश मे कोरोना संक्रमण के चलते स्कूल फिलहाल बन्द है, स्कूल आगे कब खुलेंगे ये भी तय नही है ऐसी स्तिथि में विद्यार्थियों की  पढ़ाई प्रभावित न हो इस बात को ध्यान में रखते हुए राज्य शिक्षा केन्द्र के निर्देशानुसार डिजीलेप के माध्यम से ऑनलाइन पढ़ाई की जा रही है जिसमे दक्षता उन्नयन के तहत गणित और हिंदी विषयो की दक्षताओं को पूर्ण कराया जा रहा है। डीजिलेप गतिविधियों के विस्तार हेतु एवं साप्ताहिक व्हाट्सअप्प आधारित मूल्यांकन  को गति देने के लिए मुहल्ला कक्षाओं का संचालन सम्पूर्ण जिले के अलावा साईंखेड़ा विकासखण्ड में भी जारी है।

 

मोहल्ला क्लासों में शिक्षक छात्र छात्राओं के घर घर जाकर वहां बच्चों को एकत्रित करके कोरोना संक्रमण से बचाव के नियमो का पालन करते हुए शिक्षण कार्य कराते है। सांगई में पदस्थ माध्यमिक शिक्षक मधुसूदन पटैल ने बताया की कोरोना काल मे स्कूल बंद होने के चलते विद्यार्थियों का बेसिक ज्ञान कमजोर हो गया है जिसे बनाये रखने के लिए राज्य शिक्षा केन्द्र की पहल पर हम लोग अलग अलग जगहों पर मुहल्ला क्लास संचालित कर दक्षता उन्नयन वर्क बुको की जांच के साथ व्हाट्सअप्प आधारित मूल्यांकन भी कराते है।

बगदरा के माध्यमिक शिक्षक राजेन्द्र गुप्ता ने  बताया की मोहल्ला क्लास  बच्चों से जुड़े रहने का सशक्त माध्यम है। इसके माध्यम से बच्चों की पढ़ाई का फीडबैक मिलता रहता है एवं उनकी मूलभूत कठिनाइयों का समाधान भी हो जाता है। उल्लेखनीय है की राज्य शिक्षा केन्द्र से मोहल्ला क्लासों की मॉनिटरिंग की ज़िम्मेदारी बीआरसी , बीएसी एवं जनशिक्षकों को सौंपी गई है । साईंखेड़ा विकासखण्ड में बीईओ डी के चतुर्वेदी, बीआरसी चन्दन शर्मा के निर्देशन में बीएसी सन्दीप स्थापक, योगेंद्र झारिया, मनीराम मेहरा, जनशिक्षक प्रशान्त राय, देवी सिंह कीर, नेपाल सिंह झारिया, सुरेंद्र राजपूत, बनवारी लाल नागवंशी, मो अप्सार खान, प्रदीप मालवीय, रामकृष्ण अहिरवार, प्रमोद पठारिया, दीपक स्थापक द्वारा भी सतत रूप से मुहल्ला क्लासों का निरीक्षण किया जाता है।