इंदौर : एस.टी.एफ. ने अंतरप्रांतीय गांजे की तस्करी करने वाली गैंग को पकड़ा ,5 आरोपी गिरफ्तार कर 1 क्विंटल से अधिक गांजा किया जप्त  

इंदौर : एस.टी.एफ. ने अंतरप्रांतीय गांजे की तस्करी करने वाली गैंग को पकड़ा ,5 आरोपी गिरफ्तार कर 1 क्विंटल से अधिक गांजा किया जप्त  

एस.टी.एफ. ने अंतरप्रांतीय गांजे की तस्करी करने वाली गैंग को पकड़ा 5 आरोपी गिरफ्तार कर 1 क्विंटल से अधिक गांजा जिसकी अंतर्राष्ट्रिय बाजार में कीमत करीब 1 करोड़ रुपये है 

आरोपियो का नाम : -                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                          1: - शिवाजी पावरा पिता बिश्या पावरा आयु 42 वर्ष निवासी ग्राम लाकड़िया हनुमान, थाना सांगवी, जिला धुले महाराष्ट्र
 2 : - अश्विन पावरा पिता लक्ष्मण पावरा आयु 29 वर्ष निवासी ग्राम दुरबड़िया, थाना सांगवी, जिला धुले महाराष्ट्र
 3: - अविनाश पावरा पिता सुरेश पावरा आयु 20 वर्ष निवासी ग्राम सुले, थाना सांगवी, जिला धुले महाराष्ट्र
 4 : - सुमित जमरा पिता भुरसिंह जमरा आयु 20 वर्ष निवासी चर्च कॉलोनी, एबी रोड़ सेन्धवा जिला बड़वानी म0प्र0
 5: - अक्षय आर्य पिता हिम्मत आर्य उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम दुगानी थाना वरला तहसील वरला जिला बड़वानी

जप्त माल विवरण -                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                             1 : - मादक पदार्थ गांजा कुल 100 किलो 185 ग्राम जिसकी अंतर्राष्ट्रिय बाजार में कीमत करीब 1 करोड़ रुपये
 2 : - आरोपियों से जप्तशुदा स्विफ्ट कार एमएच 04 डीआर 1910 कीमत लगभग 04 लाख रूपये
 3 : - आरोपियों से जप्तशुदा 05 मोबाइल फोन कीमत लगभग 30 हजार रूपये
 4 : - नगदी राशि 720 रूपये
इंदौर से मनीष आमले की रिपोर्ट : - विपिन माहेश्वरी अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एस.टी.एफ. म.प्र. ने समस्त पुलिस अधीक्षक एवं एसटीएफ के अधिकारियों कर्मचारियों को गंभीर संगठित अपराधों में संलिप्त आरोपियों, अवेध मादक पदार्थ की तस्करी करने वाले, मिलावट वाली खाद्य सामग्रियों के व्यापार एवं उत्पादन करने वाले आरोपियों की सूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया था। इसी तारतम्य में एसटीएफ की समस्त टीमें
संपूर्ण मध्यप्रदेश में विभिन्न अपराधियों की चेकिंग एवं दूसरे प्रदेश से प्राप्त जानकारियों वहां घटित अपराधों के विषय में सघन चेकिंग व सूचना प्राप्त कर कार्य कर रहे थे। पुलिस अधीक्षक एस टी एफ इंदौर मनीष खत्री ने बताया की एस टी एफ इंदौर प्रभारी एम. ए. सैयद एसटीएफ निरीक्षक इकाई इंदौर को गत दिन मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि 2 लड़के हर सप्ताह गत एक माह से इंदौर शहर में छोटा बेग या प्लास्टिक की थेली लेकर आते है एवं उसमे इंदौर शहर में कुछ लोगो को गांजा सप्लाय करते है सुचना की पुष्टि की गई एवं विभिन्न स्थानों पर गोपनीय रूप से निगरानी रखी गई व खलघाट तरफ से आने वाली बसों में आने जाने वाले लोगो पर नजर रखी गई। पुष्टि करने के लिए निरीक्षक एम. ए. सैयद, निरीक्षक संजय बघेल, प्रधान आरक्षक झनक लाल, आर. प्रशांत परिहार, आर विवेक द्विवेदी खलघाट तक गोपनीय रूप से जाकर गतिविधियों की चेकिंग कर आये। आरक्षक प्रशांत को गोपनीय रूप से खलघाट टोल व अन्यत्र स्थान पर निगरानी हेतु भी भेजा गया अंततः सुचना की पुष्टि हुई।
दिनांक 03-12-2020 को प्रातः विश्वस्त मुखबिर द्वारा निरीक्षक एम.ए. सैयद को सूचित किया की सेंधवा से 9 बजे एक सफेद रंग की स्विफ्ट कार नम्बर एमएच 04 डीआर 1910 में बड़ी मात्रा में गांजा भरकर अक्षय आर्य और सुमित जमरा अपने 3 साथियों अविनाश, अश्विन,शिवाजी के साथ किसी पार्टी को इन्दौर शहर में गांजा देने के लिए सेंधवा से निकले है एवं इंदौर पहुचकर राऊ चौराहे के आगे किसीको गांजा
सप्लाय करेंगे। सुचना की तस्दीक एवं कार्यवाही करने हेतु इकाई से निरीक्षक एम.ए. सैयद एसटीएफ टीम के साथ सिमचा रिसोर्ट के पहले ए बी रोड हायवे के पास पहुंचे जहां मुखबिर सूचना के अनुसार स्विफ्ट कार का इंतजार किया व ब्लॉक करने आरक्षक देवेन्द्र, प्रधान आरक्षक श्रीकृष्णा मय शासकीय बोलेरो वाहन तथा शासकीय मोटरसाइकिल से आए हुए आरक्षक विराट एवं आशीष को लगाया स्वयं निरीक्षक एमए
सैयद आरक्षक प्रशांत, आरक्षक विष्णु, आरक्षक ओमवीर, आरक्षक विकास, के मय शासकीय वाहन बोलेरो से हायवे के पास से थोड़ी आगे कच्चे रस्ते से पक्की सड़क भैसलाय रोड पर रुक गया प्रधान आरक्षक झनक पटेल व आरक्षक विवेक को पिगडम्बर टोल नाके पर गाड़ी को रोकने के लिए लगाया गया। कुछ समय बाद सूचना के बताए स्थान पर चेक करने पर सफ़ेद रंग की स्विफ्ट कार नबर एमएच 04 डीआर 1910 की हायवे पर सेंधवा तरफ आती हुई दिखी जिसे स्टाफ द्वारा रोकने की चेष्टा करने पर हाईवे से भैसलाय गांव की रोड की तरफ मुड़कर भागी जहां आगे शासकीय बोलेरो वाहन से निरीक्षक एम.ए. सैयद एसटीएफ टीम के साथ स्विफ्ट कार को रोक लिया गया और पीछे से मोटरसाइकिल से आए हुए आरक्षक विराट एवं आशीष और आरक्षक देवेंद्र, श्रीकृष्ण ने शासकीय बोलेरो वाहन से स्विफ्ट कार के पीछे लगाकर उसको ब्लॉक किया एसटीएफ टीम ने चारो ओर से स्विफ्ट कार को घेरकर चेक किया तो उसमे 5 व्यक्ति बेठे पाए गए तथा 5 बोरियो में गांजा होना पाया गया मौके पर विधिवत सम्पूर्ण कार्यवाही की जाकर निरीक्षक एम.ए. सैयद ने 1 अश्विन पावरा पिता लक्ष्मण पावरा 2 शिवाजी पावरा पिता बिश्या पावरा 3 अक्षय आर्य पिता हिम्मत आर्य 4 सुमित जमरा पिता भुरसिंह जमरा 5 अविनाश पावरा पिता सुरेश पावरा से 5 बोरियो में भरा हुआ गांजा कुल 100 किलो 185 ग्राम (1 क्विंटल 185 ग्राम ) जिसकी अंतर्राष्ट्रिय बाजार में कीमत करीब 1 करोड़ रुपये, स्विफ्ट कार एमएच 04 डीआर 1910 एवं 05 मोबाइल फोन जप्त किया तथा पांचो आरोपियों को धारा 8/20 NDPS एक्ट अंतर्गत गिरफ्तार कर थाना एसटीएफ मध्यप्रदेश में अपराध किया गया।
आरोपियों में से शिवाजी पावरा महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, गुजरात, आदि राज्यों में बड़े पैमाने पर गांजे की सप्लाय उसके गाव के ही अविनाश पावरा के माध्यम से तथा सुमित व अक्षय के माध्यम से करता है। शिवाजी स्वयं गांजा की खेती अपने गाव के पास दुरस्त दुर्गम स्थान में करता है एवं अन्य लोगो से भी करवाता है तथा कई बार खरगोन एवं बडवानी जिले के लोगो से गांजा लेकर सप्लाय करवाता है।
उल्लेखनीय है की इंदौर शहर में पहली बार गांजा सप्लाय करने वाले लडको के साथ साथ मुख्य संग्रहकर्ता व गैंग लीडर एसटीएफ द्वारा पकड़ा गया है आरोपियों को पुलिस रिमांड हेतु निरीक्षक  श्रीकांत जोशी द्वारा पेश किया गया  न्यायलय द्वारा दिनांक 09-12-2020 तक का पुलिस रिमांड स्वीकृत किया गया है जिसके बाद उनकी निशादेही से गांजे के व्यापार में लगे अन्य अपराधियों को महाराष्ट्र, खरगोन,
खंडवा जाकर कार्यवाही की जावेगी। प्रकरण की विवेचना उप पुलिस अधीक्षक सोनू कुर्मी द्वारा की जाएगी।