सभी खबरें

दिग्गी राजा ने सरकार के नए शस्त्र संशोधन बिल पर उठाए सवाल, देखिये मोदी / शाह का नाम लेकर कह दिया ये क्या ?

नई दिल्ली :- कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने केंद्र सरकार के शस्त्र (संशोधन) विधेयक, 2019 पर सवाल उठाए हैं, उन्होंने कहाँ हैं की, 
मोदी / शाह जी अधिकांश अपराध के बिना लायसेन्स के हथियारों से होता है। यदि रोकना है तो दीमापुर की अवैध जड़ी की मंडी पर रोक लगाइये।  वहॉ से आप जैसा हथियार चाहते हैं ख़रीद सकते हैं। प्रशासन को सब मालूम है। साहस करेंगे?
 आर्म्स लायसेन्स धारी ज़िम्मेदार लोग हैं उन पर शिकंजा कसना मूर्खता है।

गौरतलब है की अभी हाल ही में शुक्रवार को संसद में लोकसभा में गृहमंत्री अमित शाह ने शस्त्र (संशोधन) विधेयक, 2019 पेश किया। 
जिसका उद्देश्य लाइसेंसधारी हथियारों का दुरुपयोग रोकना है। इस विधेयक को लाने के प्रस्ताव के पीछे सरकार की मंशा संगठित अपराधों को अंजाम देने वाले अपराधियों तक इस प्रकार के हथियारों की पहुंच रोकना है। माना जा रहा है कि इसी सप्ताह इस संशोधित विधेयक पर चर्चा भी होगी। 
जिसे हर बिल की भांति पहले लोकसभा में पारित करवाने के बाद सरकार इसे राज्यसभा से पारित करवाया जाएगा। आपको बता दें की मोदी सरकार का इरादा इस बिल के जरिये वर्तमान में लाइसेंस प्राप्त हथियारों की संख्या में कमी करना है। साथ ही इस व्यस्था को नए नियम से जोड़ने के लिए पूर्व में बनाए गए शस्त्र अधिनियम, 1959 में भी संशोधन किया जाएगा।

इसी पर तंज कस्ते हुए दिग्गी राजा ने कहा हैं की, यदि कोई लायसेन्स धारी व्यक्ति अपराधी प्रवृत्ति का है तो उसका लायसेन्स निरस्त करने का अधिकार मौजूदा क़ानून में शासन को है उसका उपयोग करिये। 2/3  प्रतिशत लोगों की वजह से 97/98 प्रतिशत लोगों को क्यों परेशान करा जा रहा है? मोदी शाह जी ज़रा सोचिये!!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button