दिग्विजय का बड़ा ऐलान अब नहीं बैठेंगे मंच पर , कहा कार्यकर्म की शुरुआत रघुपति राघव राजाराम से की जाये  

दिग्विजय का बड़ा ऐलान अब नहीं बैठेंगे मंच पर , कहा कार्यकर्म की शुरुआत रघुपति राघव राजाराम से की जाये  

भोपाल : मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बड़ा ऐलान किया हैं। उन्होंने कहा कि अब मंच पर नहीं बैठेंगे। इसके साथ ही सिंह ने सूचना जारी की है कि अब मंच पर कोई कार्यकर्ताओं को भी नहीं बैठना चाहिए। उन्होंने महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर नई पहल शुरू करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को सूचित किया है। बता दे कि दिग्विजय सिंह ने कहा कि हर सभा की शुरुआत रघुपति राघव राजाराम से होनी चाहिए। इसके अलावा उन्होंने कार्यक्रम के शुरुआत में स्वागत के लिए  फूल, माला और गुलदस्ते का प्रयोग न करें। इसके जगह सूत का माला का उपयोग करें।    

मंच की शुरुआत रघुपति राघव राजाराम से होनी चाहिए - दिग्विजय सिंह 

दिग्विजय सिंह ने सूचना जारी किए हैं। जिसमे महात्मा गांधी के सिद्धांतो पर चलने , उनके कार्यो का अनुशरण , उपयोग करने वाले वस्तुओं का प्रयोग करने के लिए निर्देशीत किया हैं। उनका मानना है कि कार्यक्रमों में फूलों से लेकर ढोल नगाड़ो तक का प्रयोग न करें। जैसा की स्वागत फूल, माला और गुलदस्ते के बजाय सूत की माला का करें।  बैनर, पोस्टर और फ्लैक्स पर उनकी तस्वीर ना लगाए। ढोल, आतिशबाजी और पटाखों का प्रयोग न करें। इसके साथ ही कार्यकर्म की शुरुआत महात्मा गाँधी के प्रिय भजन रघुपति राघव राजाराम के साथ ही की जाए।  इसके बाद कार्यक्रम में उपस्थिति सभी लोग एक मिनट का मौन धारण करें फिर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की जाए।