मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रायसेन पहुँच कर 200 करोड़ रुपये के विकास कार्यो का किया शिलान्यास,कमलनाथ सरकार पर जमकर साधा निशाना

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रायसेन पहुँच कर 200 करोड़ रुपये के विकास कार्यो का किया शिलान्यास,कमलनाथ सरकार पर जमकर साधा निशाना

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने रायसेन पहुँच कर 200 करोड़ रुपये के विकास कार्यो का शिलान्यास किया ओर कई कार्य स्वीकृत करने का वादा कर कमलनाथ सरकार दौरा बंद की गई योजनाओं को चालू करने की बात कही कमल नाथ सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए उमाभारती ने कहा कमल नाथ सरकार को हम ने नही गिराया उन के विधायकों ने ही सरकार गिराई है।
रायसेन से अमित दुबे की रिपोर्ट   : -
 रायसेन-रायसेन के दशहरा मैदान मैं आयोजित शिलान्यास भूमिपूजन लोकार्पण कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती सहित कई बड़े नेता शामिल हुए उमाभारती ने कहा रायसेन से पुराना नाता है रायसेन हमारे दिल मे बसता है  इस लिए रायसेन आना अच्छा लगता है। कमल नाथ सरकार को उनके विधायकों ने गिराई है हम ने नही हम विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़े है और लड़ेंगे अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा साथ ही पूरे देश मे रामराज्य का निर्माण हो ये भी हमारा एजेंडा है। वही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधते हुए कहा हमारी कई योजनाएं बंद कर दी गई थी जल्द ही चालू कर दी जाएगी संबल योजना बहुत जल्द चालू हो जायेगी पूर्व रायसेन में 76 हजार लोगों  कल से 1 रुपये किलो गेहू प्रत्येक व्यक्ति को 10 किलो महीना दिया जाएगा बच्चे बच्ची जन्म होने पर पैसे देने की योजना चालू की थी मेरी बहनो ने क्या बिगड़ा था जो कलमनाथ पैसे खा गए मेरी बच्चो की पढ़ाई की फीस भी खा गए हम शादी में 25 हजार देते थे कमलनाथ ने कहा 51 हजार देंगे शादियां हो गई भांजी भांजे भी हो गए कमलनाथ के 51 हजार नही आये हम अंतिम संस्कार के पैसे देते थे कमलनाथ कफन तक खा गए किसानों को फर्जी ऋण माफी पत्र बाट दिए कर्ज माफ किया नही पिछली वर्ष का किसान फसल बीमा नही दिया हम देगे किसान भाई चिंता न करे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कई और विकास कार्य की स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी ने मांग रखी जिस पर शिवराज सिंह चौहान ने कहा में कमलनाथ नही हू पैसे नही है पैसे नही है कहु में कही से भी पैसे लाऊँगा विकास के सभी कार्य किये जायेंगे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता सहित ग्रामीण लोग मौजूद रहे।