उन्नाव: ज़मीन के उचित मुआवज़े की जगह भाजपा किसानों को दे रहीं हैं लाठियां, क्यों योगी सरकार है खामोश?

उन्नाव: ज़मीन के उचित मुआवज़े की जगह भाजपा किसानों को दे रहीं हैं लाठियां, क्यों योगी सरकार है खामोश?
  • किसान और पुलिस के बीच हुई झड़प 
  • पुलिस ने किसानों पर बरसाई लाठियां 
  • प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव ने बोला हमला 
  • ट्वीट कर योगी सरकार का किया घेराव 

उन्नाव : रविवार को उत्तर प्रदेश में किसानों और पुलिस के बीच हुई झड़प वाला मामला अब तूल पकड़ता हुआ नज़र आ रहा हैं। दरअसल कल यहां किसानों और पुलिस के बीच झड़प इतनी बड़ गई के गुस्साए किसानों ने जेसीबी और पुलिस की गाड़ी पर पथराव किया। इसके साथ ही किसानों ने ट्रांस गंगा सिटी एरिया के करीब 1 किलोमीटर की परिधि में बने सब स्टेशन के पास पड़े प्लांट के पाइपों को भी आग के हवाले कर दिया। 

दरअसल, उन्नाव में उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम की ट्रांस गंगा सिटी परियोजना के तहत किसानों की जमीन अधिग्रहित की गई। लेकिन किसानों का कहना है कि जो मुआवजा दिया गया वो काफी कम था। किसान इसी को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। तभी पुलिस ने इन सबको रोकने का प्रयास किया। बताया जा रहा है की किसानों के गुस्से को शांत करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज भी करना पड़ा। 

पुलिस के इस लाठी चार्ज ने उत्तर प्रदेश की योगी सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया हैं। पुलिस की इस हरकत के बाद योगी सरकार पर सवाल उठने शुरू हो गए हैं। कांग्रेस और सपा ने योगी सरकार का जमकर घेराव किया हैं। बता दे कि प्रियंका गांधी और अखिलेश यादव ने ट्वीट कर योगी सरकार पर करारा तंज कसा हैं। 

 

उत्तर प्रदेश में किसानों को ट्रांस गंगा सिटी प्रोजेक्ट की ज़मीन के उचित मुआवज़े की जगह भाजपा की लाठी मिल रही है, गन्ने का मूल्य नहीं मिल रहा, खड़ी फसल आवारा पशु खा रहे हैं, देश में अन्नदाताओं की आत्महत्याएं बढ़ती जा रही हैं... क्या भाजपा के राज में विकास की यही परिभाषा है. pic.twitter.com/MKPJcb4a4C

— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) November 17, 2019

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'उत्तर प्रदेश में किसानों को ट्रांस गंगा सिटी प्रोजेक्ट की ज़मीन के उचित मुआवज़े की जगह भाजपा की लाठी मिल रही हैं। गन्ने का मूल्य नहीं मिल रहा, खड़ी फसल आवारा पशु खा रहे हैं। देश में अन्नदाताओं की आत्महत्याएं बढ़ती जा रही हैं...क्या भाजपा के राज में विकास की यही परिभाषा हैं। 

उधर, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा कि 'उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अभी गोरखपुर में किसानों पर बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं, उनकी पुलिस का हाल देखिए। उन्नाव में एक किसान लाठियां खाकर अधमरा पड़ा हैं। उसे और मारा जा रहा हैं। शर्म से आंखें झुक जानी चाहिए, जो आपके लिए अन्न उगाते हैं, उनके साथ ऐसी निर्दयता?' बता दे कि कुछ देर बाद प्रियंका गांधी ने अपना यह ट्वीट डिलीट कर दिया।