रायसेन : संभागा आयुक्त ने राजस्व प्रकरणों का निराकरण के दिए निर्देश

रायसेन : संभागा आयुक्त ने राजस्व प्रकरणों का निराकरण के दिए निर्देश

संभागा आयुक्त ने राजस्व प्रकरणों का निराकरण के दिए निर्देश

रायसेन से अमित दुबे की रिपोर्ट : - भोपाल संभागायुक्त  कविन्द्र कियावत ने सांची नायब तहसील कार्यालय, जनपद कार्यालय, रायसेन एसडीएम कार्यालय तथा गैरतगंज में एसडीएम कार्यालय और जनपद कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने परिसर में साफ-सफाई रखने, राजस्व न्यायालयों में दर्ज प्रकरणों का समय-सीमा में निराकरण करने और लंबित सीमांकन, नामांकन, बंटवारा व बटान जैसे आवेदनों का तत्काल निराकरण करने के के साथ अबैध कॉलोनियों पर कार्यवाही करने के निर्देश दिए।   

  निरीक्षण के दौरान कलेक्टर  उमाशंकर भार्गव ने जिले में राजस्व संबंधी गतिविधियों के साथ ही कोविड टीकाकरण, उपार्जन, आयुष्मान कार्ड बनाने सहित अन्य गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
संभागायुक्त  कियावत ने कहा कि राजस्व न्यायालयों में प्रकरण लंबित होने तथा आवेदक के साथ अन्याय होने की स्थिति में जिम्मेदार अधिकारी-कर्मचारी पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने एसडीएम  एलके खरे को निर्देश दिए कि वे अपने अधीनस्थ राजस्व न्यायालयों का भी आकस्मिक निरीक्षण कर देखें कि वहां कोई भी राजस्व प्रकरण दर्ज होने से या उनके संज्ञान में आने से छूटा तो नहीं है। इस दौरान उन्होंने एसडीएम न्यायालय में राजस्व पंजियों का अवलोकन भी किया। संभागायुक्त ने कार्यालय में उपस्थित रीडर सहित अन्य कर्मचारियों से उनके द्वारा किये जाने वाले कार्यों के बारे में जानकारी प्राप्त की। साथ ही सीएम हेल्पलाइन से संबंधित आवेदनों का शीघ्रता से निराकरण करने के निर्देश भी दिए। निरीक्षण के दौरान उन्होंने एसडीएम कार्यालय में दर्ज डायवर्सन के लिए लंबित प्रकरणों तथा जाति प्रमाण पत्र सहित अन्य प्रमाण पत्रों के तैयार करने संबंधी कार्य की प्रगति की जानकारी भी ली।
संभागायुक्त  कियावत ने भूमि उपयोग परिवर्तन के मामलों में अग्रिम रूप से वसूली के निर्देश एसडीएम  खरे को दिए। उन्होंने तहसीलदार के समस्त रिकार्ड का मूल्यांकन करने तथा राजस्व प्रकरणों का तेजी से निराकरण करने के निर्देश दिए। भंडार सामग्री की जानकारी लेते हुए उसके भौतिक सत्यापन के निर्देश उपसंचालक को दिए। उन्होंने सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने के निर्देश भी दिए।

 संभाग आयुक्त कविन्द्र कियावत