"दिग्गी राजा" के इस ट्वीट पर सियासत शुरू, रामेश्वर शर्मा ने कहा "सरकार गिराने वाले दे रहे लोकतंत्र की दुहाई, दल संभाले वरना राम नाम सत्य है" 

"दिग्गी राजा" के इस ट्वीट पर सियासत शुरू, रामेश्वर शर्मा ने कहा "सरकार गिराने वाले दे रहे लोकतंत्र की दुहाई, दल संभाले वरना राम नाम सत्य है" 

दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर रामेश्वर शर्मा का पलटवार, कहा सरकार गिराने वाले दे रहे लोकतंत्र की दुहाई, दल संभाले वरना राम नाम सत्य है 

 मध्यप्रदेश में उपचुनाव से पहले राजनीति चरम पर है. नेता मंत्री एक दूसरे पर लगातार निशाना साध रहे हैं. इसी बीच कल कांग्रेस के विधायक रहे राहुल सिंह लोधी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए. जिसके बाद कांग्रेस में खलबली मच गई है. कांग्रेस नेता राहुल सिंह लोधी को लेकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं दिग्विजय सिंह ने ट्वीट कर कल कहा था कि मामा के झोले की काली कमाई में एक और विधायक बिका। लगता है भाजपा में असली भाजपाइयों से अधिक बिके हुए ग़द्दार कॉंग्रेसी मामा भर देगा। मुझे उन ईमानदार संघ व भाजपा के कार्यकर्ताओं पर दया आती है जिन्होंने भाजपा को यहाँ तक पहुँचाया। जयंत मलैया जी कहॉं हैं? 

#लोकतंत्र_बचाओ_भाजपा_हराओ

 जिसके बाद आज प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने दिग्विजय सिंह के ट्वीट पर पलटवार किया है उन्होंने कहा कि 6 दिसम्बर 1992 में प्रभु श्रीराम का उद्घोष करने वाली दिल्ली,उत्तर प्रदेश,हिमाचल प्रदेश,मध्यप्रदेश एवं राजस्थान की तत्कालीन सरकारो को एक झटके में गिराने वाले आज लोकतंत्र की दुहाई दें रहें है . 

दिलों से क्यों उतर रहा है दल इसपर विचार करो नही तो 

श्रीराम नाम सत्य है... 
 कांग्रेस के 26 विधायकों भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो चुके हैं.. कांग्रेस बहुमत से बहुत दूर हो गई है. पर फिर भी कांग्रेस पार्टी लगातार यह दावा कर रही है कि 10 नवंबर को वह बड़ी जीत दर्ज करेंगे और मध्य प्रदेश की कमान अपने हाथ में लेंगे

 मध्य प्रदेश की राजनीति में देखना बेहद दिलचस्प होगा कि 10 नवंबर किसकी जीत सुनिश्चित होती है और किसके हाथ हार लगती है.