तीसरी लहर : भोपाल-इंदौर में पहली बार मिले 1 हज़ार से ज़्यादा Corona संक्रमित....CM लगा सकते है पाबंदियां

तीसरी लहर : भोपाल-इंदौर में पहली बार मिले 1 हज़ार से ज़्यादा Corona संक्रमित....CM लगा सकते है पाबंदियां

भोपाल : मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में गुरुवार को पहली बार 1008 नए केस मिले। इनमें चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, कृषि मंत्री कमल पटेल, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा, पूर्व मंत्री पीसी शर्मा सहित 1 से 18 साल के 73 बच्चे, 61 से अधिक उम्र के 72 बुजुर्ग और 10 डॉक्टर भी शामिल हैं। 

भोपाल के बाद इंदौर में 1291 नए संक्रमित मिले हैं। जबकि, ग्वालियर में 635, जबलपुर में 349 सागर में 263, के अलावा उमरिया, खरगोन, होशंगाबाद में भी संक्रमित मरीजों के मिलने का सिलसिला जारी है। प्रदेश में अब तक 50 जिलों में संक्रमण फैल चुका है जबकि प्रदेश में कुल 3 वेरिएंट की पुष्टि हुई है। 

वहीं, कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को देखते हुए भोपाल में सभी मेडिकल स्टाफ की छुटि्टयां निरस्त कर दी गई हैं। इसमें डॉक्टर, अधिकारी, कर्मचारी शामिल हैं। इस संबंध में भोपाल के सीएमएचओ ने आदेश भी जारी कर दिया है। 

इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज अपने आवास पर सभी क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक बुलाई है। बैठक में मंत्री, विधायक, अधिकारी, कमिश्नर, कलेक्टर सहित जिला विकासखंड वार्ड तथा ग्राम स्तरीय समितियां के सदस्यों सहित जनप्रतिनिधि भी शामिल होंगे। ये बैठक वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से होगी। माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बैठक में प्रदेश में लगातार बढ़ते कोरोना के आंकड़ो का फीडबैक लेंगे। साथ ही आगामी परिस्थितियों को देखते हुए कुछ कड़े फैसले ले सकते है।