Rajasthan Politics:- सीएम गहलोत ने दी राज्यपाल को धमकी, कहा "कहीं राजस्थान की जनता राजभवन का घेराव ना कर ले"!

Rajasthan Politics:- सीएम गहलोत ने दी राज्यपाल को धमकी, कहा "कहीं राजस्थान की जनता राजभवन का घेराव ना कर ले"!

सीएम गहलोत ने दी राज्यपाल को धमकी, कहा "कहीं राजस्थान की जनता राजभवन का घेराव ना कर ले"!

 राजस्थान में लगातार सियासी घमासान चालू है इस बीच अशोक गहलोत ने राज्यपाल से विधानसभा सत्र बुलाने की बात कही है पर अभी तक राज्यपाल का कोई जवाब नहीं आया है.. राज्यपाल की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिलने पर सीएम गहलोत विधानसभा पहुंच गए.. इसके बाद उन्होंने राज्यपाल को धमकी दे डाली और कहा कि कहीं राजस्थान की जनता विधानसभा का घेराव न कर ले इसकी जिम्मेदारी हमारी नहीं होगी.. 

 इन सबके बाद सीएम गहलोत ने विधानसभा में विधायकों की परेड भी कराएं और साथ ही 102 विधायकों का समर्थन राज्यपाल को सौंपा पर राज्यपाल ने अभी विधानसभा सत्रपैसों के दम पर गहलोत खेमे में नहीं जाएगा. बुलाने को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दर्शाई है लेकिन उन्होंने यह बात जरूर कही है कि विधानसभा सत्र बुलाने का एजेंडा अभी साफ नहीं है. 

 बता दे कि सीएम अशोक गहलोत लगातार दावा कर रही हैं कि उनके पास 102 विधायकों का समर्थन है इसके साथ ही वह यह भी कह रहे हैं कि जो बागी विधायक सचिन पायलट के साथ हैं उनमें से भी चार विधायक हमारे साथ शामिल होने को तैयार हैं मतलब उन्होंने कुल अपने पास लगभग 106 से लेकर 107 विधायकों का समर्थन बताया है.. 

 वहीं सचिन पायलट लगातार कह रहे हैं कि उनकी पार्टी का कोई भी विधायक पैसों के दम पर गहलोत खेमे में नहीं जाएगा. मौजूदा हालात में बहुमत के लिए 101 विधायक चाहिए और वही सीएम गहलोत का दावा है कि उनके पास 102 विधायकों का पूर्ण समर्थन है.. 

 अब देखना यह होगा कि आने वाले समय में राजस्थान की राजनीति में और क्या-क्या होता है.. ! विधायकों की खरीद-फरोख्त कर गहलोत अपनी सरकार को बचाए रखते हैं या फिर विधायकों की खरीद-फरोख्त कर सचिन पायलट ने जो बात कही थी कि वह बैंगन बेचने नहीं आए हैं मुख्यमंत्री बनने आए हैं उस बात को साबित करते हैं!