भोपाल : अब संविदा स्वास्थ्यकर्मियों ने सरकार को दी धमकी, 15 मई से काम बंद करने का किया ऐलान

भोपाल : अब संविदा स्वास्थ्यकर्मियों ने सरकार को दी धमकी, 15 मई से काम बंद करने का किया ऐलान

मध्यप्रदेश/भोपाल - मध्यप्रदेश में जारी कोरोना महामारी के बीच अब कर्मचारी लगातार सरकार को काम बंद करने की धमकी दे रहें हैं। पहले जूनियर डॉक्टर्स, फिर बिजली कर्मचारी और अब संविदा स्वास्थ्यकर्मी ने सरकार को काम बंद करने की धमकी दी हैं।संविदा स्वास्थ्यकर्मी ने अपनी मांग पूरी न होने पर 15 मई से काम बंद करने का ऐलान किया हैं।

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुनील यादव ने कहा कि अगर 10 दिन के अंदर मांग पूरी नहीं की जाती है तो काम बंद कर दिया जाएगा। काम बंद होने से मरीजों को होने वाली असुविधा के लिए शासन-प्रशासन जिम्मेदार होगा।

क्या है पूरा मामला

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुनील यादव का कहना है कि सामान्य प्रशासन विभाग ने संविदा कर्मचारियों को 90% वेतनमान देने के निर्देश दिए हैं, लेकिन उतना वेतन मिल नहीं रहा। जबकि, बाकी सभी विभागों को 90% वेतनमान दिया जा रहा हैं। NHM के संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी भी आधे वेतन में काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि 19 हज़ार से ज्यादा कर्मचारी कोविड वार्ड, अस्पताल और कोविड केयर सेंटर्स में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इनमें से कई कर्मचारियों को कोरोना हैं। बावजूद इसके वे आधे वेतन में काम कर रहे हैं।

यादव ने कहा कि संघ ने अब सीएम शिवराज सिंह चौहान, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग और स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी को पत्र लिखकर 90% वेतनमान देने की मांग की हैं। मांगे पूरी करने के लिए 15 मई तक का समय तय किया गया हैं।