साँची:- चुनावी प्रचार प्रसार में मस्त है स्वास्थ्य मंत्री, कोरोना का सैंपल ले रहा है माली

साँची:- चुनावी प्रचार प्रसार में मस्त है स्वास्थ्य मंत्री, कोरोना का सैंपल ले रहा है माली

साँची:- चुनावी प्रचार प्रसार में मस्त है स्वास्थ्य मंत्री, कोरोना का सैंपल ले रहा है माली

 सांची में स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही सामने आई है. बता दें कि यहां एक अस्पताल में माली लोगों के कोरोना का सैंपल ले रहा है . स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही का यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ है जिसके बाद लोग मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी को निशाने पर ले रहे हैं.

ये माली न केवल सैंपल ले रहा है बल्कि जो लोग सैंपल देने आ रहे हैं वह उन्हीं से सारी प्रक्रिया पूरी करा ले रहा है.

 इस बात का खुलासा तब हुआ जब एनडीटीवी के वरिष्ठ पत्रकार अनुराग द्वारी ने इसका वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर किया.

 इस वीडियो में साफ दिखाया जा रहा है कि माली बिना PPE किट पहने लोगों का सैंपल ले रहा है.

 यहां देखें वीडियो :-

https://twitter.com/Anurag_Dwary/status/1381810464674357250?s=19

सैंपल एकत्रित करने वाले माली का नाम हल्के राम है. बताया जाता है कि वह अस्पताल के स्थायी कर्मचारी भी नहीं हैं. जब उनसे ऐसा करने का कारण पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अस्पताल के ज्यादातर कर्मचारी कोरोना संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं, मैं अस्पताल का माली हूं और पर्मानेंट भी नहीं हूं. इसलिए लोगों की मदद कर रहा हूं.

 

 लापरवाही पर बीएमओ ने दिए अजीब से तर्क :-

 इस बड़ी लापरवाही का जब खुलासा हुआ और फिर भी हम उसे जब इस बात की चर्चा की गई तो उन्होंने कहा कि स्थिति बेहद बुरी है आधे से ज्यादा स्टाफ खुद संक्रमित हैं या उनके परिवार वालों को कोरोना का सक्रमण हो गया है इसलिए माली को पूर्व में ट्रेनिंग दी जा चुकी है. और तब भी वह जांच कर रहे हैं.

यह हाल सांची का है जिसके विधायक प्रभुराम चौधरी हैं, वह खुद राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हैं. वह इन दिनों दमोह में होने वाले उपचुनाव के दौरे पर हैं. उनके जिले का क्या है, इससे उन्हें कोई मतलब भी नहीं. हालांकि मतलब तो राज्य के मुखिया को भी नहीं है. वह खुद उपचुनाव प्रचार की कमान संभाले हुए हैं..

 हर जिले में लॉकडाउन लगा दिया गया है लेकिन दमोह को लॉन्ग डाउन मुक्त रखा गया है पर दमोह के लोगों ने खुद कोरोना के पैर पसारते देख खुद को घरों में लॉक कर लिया.

बोल के लब आज़ाद हैं तेरे