दुकानदार और पुलिस कर्मियों की पिटाई से प्रताड़ित होकर पल्लेदार ने की खुदखुशी

दुकानदार और पुलिस कर्मियों की पिटाई से प्रताड़ित होकर पल्लेदार ने की खुदखुशी

मध्यप्रदेश/जबलपुर:- पाटन मंडी में पल्लेदारी करने वाले युवक पर दुकान मालिक ने चोरी का आरोप लगते हुए छेत्रिय थाना के तीन पुलिस कर्मी के साथ मिलकर पल्लेदार को बुरी तरह पीटा। मारपीट किये जाने से परेशान युवक ने घर में फांसी लगा कर आत्महत्या करली।पल्लेदार की मौत से आक्रोशित होकर पत्नी और अन्य परिजनों ने एसपी ऑफिस पहुंचकर अधिकारीयों को लिखित शिकायत देते हुए मांग की है की दुकानदार और पुलिस कर्मियों के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज हो।
 एसपी को लिखित शिकायत देते हुए परिजनों ने बताया कि चौधरी मोहल्ला पाटन में रहने वाला सुरेश अहिरवार अनाज मंडी में करीब 30 वर्षो से पल्लेदारी कर रहा है, 15 जुलाई को सिंघई ट्रेडर्स के मुनीम संदीप ने सुरेश को 20 किलो मूंग बेचकर रुपया लाने के लिए कहा, सुरेश जब रुपए लेकर पहुंचा तो दुकानदार के बेटे पंकज व कित्तू ने पकड़कर गाली गलौज करना शुरु कर दिया, कुछ देर बाद ही थाना पाटन के तीन पुलिस कर्मी भी पहुंच गए. जिन्होने मूंग चोरी का आरोप लगाते हुए पहले तो बड़ी ही बेरहमी से पल्लेदार की पिटाई की इसके बाद दुकान की शटर में बंद करके पीटा। इस घटना के कारण प्रताड़ित होकर सुरेश ने अपने घर में फांसी लगा ली।
  आठ बजे के लगभग जब उसकी पत्नी ने खाना लेकर जब उसके कमरे में पहुंची तो अपने पति को फांसी के फंदे पर लटका देखा तो चीख पड़ी। पुलिस ने मर्ग कायम कर जाँच शुरू कर दी है। हलाकि पुलिस ने मृत को मानसिक रोगी बताया था क्या पुलिस कर्मी अपने सिपाहियों के बचाव के कारण ही सुरेश को मानसिक रोगी बता रहे है ? परिजनों ने एसपी से निष्पक्ष जांच की गुहार की है।