मैंने सिंधिया-शिवराज को दी थी खुली चुनौती, उनकी सरकार ने विधानसभा में किया पर्दाफाश - कमलनाथ

मैंने सिंधिया-शिवराज को दी थी खुली चुनौती, उनकी सरकार ने विधानसभा में किया पर्दाफाश - कमलनाथ

भोपाल से खाईद जौहर की रिपोर्ट - मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में होने वाले उपचुनाव (By Election) से पहले दोनों प्रमुख दल ज़ोरों शोरों से प्रचार में जुट गए हैं। जहां एक तरफ कांग्रेस (Congress) सत्ता में लौटने का दावा कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा (BJP) सत्ता में बने रहने के लिए हर संभव प्रयास कर रहीं हैं। बता दे कि 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में एक बार फिर किसानों (Farmer's) की कर्ज़माफी का मुद्दा उठा हैं।

हालांकि, कांग्रेस (Congress) इस बात का दावा करते आई है कि उसने सत्ता में रहते हुए लगभग 27 लाख किसानों का 2 लाख रुपए (2 Lakhs Rupee's) तक का कर्ज माफ किया हैं। जबकि भाजपा (BJP) शुरुआत से ही ये कहते आई थी के ये सब सिर्फ कागज़ में हुए हैं।

लेकिन इसी बीच शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने विधानसभा (Vidhansabha) में इस बात को स्वीकार किया कि प्रदेश में प्रथम और द्वितीय चरण में कांग्रेस की सरकार (Congress Government) ने 51 जिलों में 26 लाख 95 हजार किसानों का 11 हजार 6 सौ करोड़ रूपये से अधिक का कर्ज माफ किया हैं। 

जिसपर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ (Congress PCC Chief Kamalnath) ने सीएम शिवराज (CM Shivraj) और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Rajyasabha MP Jyotiraditya Scindia) का घेराव किया। कमलनाथ ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज और भाजपा में शामिल हुए सिंधिया पहले ही दिन से झूठ बोल रहे हैं। प्रदेश की जनता से सफेद झूठ बोलने और गुमराह करने की घृणित राजनीति के लिए दोनों को माफी मांगना चाहिए। 

कमलनाथ ने कहा कि ग्वालियर (Gwalior) से मैंने इन दोनों को इस मुद्दे पर खुली बहस करने की चुनौती दी थी। जिसके बाद इनकी सरकार ने विधानसभा में इस झूठ से पर्दाफाश किया।