सभी खबरें

कोयला संकट: संजय गांधी थर्मल प्लांट ठप, प्लांट में पैदा होती है 500 मेगावाट बिजली

कोयला संकट: संजय गांधी थर्मल प्लांट ठप, प्लांट में पैदा होती है 500 मेगावाट बिजली

 

उमरिया:- देश में कोयला संकट के बीच मध्यप्रदेश के सामने एक और समस्या आए ख़डी हुई है.उमरिया का संजय गांधी थर्मल पॉवर प्लांट अब ठप पड़ चुका है.

मध्य प्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी लिमिटेड (एमपीपीजीसीएल) की कोयले से चलने वाली 500 मेगावाट वाली इकाई से उत्पादन बृहस्पतिवार से रुक गया.यह जानकारी एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को दी है. देश इस वक़्त भारी कोयले के संकट से जूझ रहा है हाँलाकि मप्र सरकार यह बात कह रही है कि प्रदेश को अँधेरे में नहीं आने देंगे पर स्थिति बिगड़ती जा रही है.

एमपीपीजीसीएल के प्रबंध संचालक मनजीत सिंह ने बताया कि ‘ट्यूब लीकेज’ (Tube Leakage in Umariya Power Plant) के कारण उमरिया स्थित संजय गांधी ताप बिजली केन्द्र (Sanjay Gandhi Thermal Power Plant) पर 500 मेगावाट उत्पादन की स्थापित क्षमता वाला संयंत्र ठप हो गया है।

उन्होंने कहा, ‘‘15 रैक के बजाय हमें अपने थर्मल पावर स्टेशनों को चलाने के लिए हर दिन करीब 10 रैक कोयला मिल रहा है।’’

सिंह ने कहा, ‘‘हमें कुछ दिन पहले सिर्फ 7 रैक मिल रहे थे। इसे देखते हुए राज्य को कोयले की आपूर्ति में अब सुधार हुआ है।’’

बताते चलें कि प्रदेश के खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोग बिजली की भारी संकट से जूझ रहे हैं.सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की जा रही है लेकिन कम्प्लेन क्लोज कर दी जाती है और समस्या का निराकरण भी नहीं होता है.

वहीं, मध्य प्रदेश पावर मैनेजमेंट कंपनी लिमिटेड (एमपीपीएमसीएल) के एक अधिकारी ने दावा किया कि प्रदेश के किसी भी क्षेत्र बिजली कटौती नहीं की जा रही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button