सिहोरा:- 16 घंटे की नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंका, शरीर पर लग रही थी चीटियां

सिहोरा:- 16 घंटे की नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंका, शरीर पर लग रही थी चीटियां

सिहोरा:- 16 घंटे की नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंका, शरीर पर लग रही थी चीटियां


 मझगवां थाना क्षेत्र के सेलवारा मोड़ का मामला : एफआरवी ने पहुंचाया सिहोरा अस्पताल, डॉक्टर कर रहे इलाज 
सिहोरा:- 
कोई मां इतनी निर्दयी हो सकती है कि अपनी कोख से जन्मी बच्ची को अपने से अलग कर झाड़ियों में फेंक दे। एक ऐसा ही मामला सामने आया है जबलपुर जिले की सिहोरा तहसील के मझगवां थाना क्षेत्र में। जहां नवजात बच्ची को झाड़ियों में फेंक दिया गया। उसके शरीर में चीटियां लग गई थी। आनन फानन में नवजात को पहले मझगवां पीएचसी लाया गया, जहां से उसे सिहोरा सिविल हॉस्पिटल इलाज के लिए भेज दिया गया।


ये है पूरा मामला :

पुलिस से हासिल जानकारी के मुताबिक गुरूवार सुबह एफआरवी महगवां को सूचना मिली कि सेलवारा गांव के पास झाड़ियों के पास एक बच्ची पड़ी है। उसके चेहरे पर चींटियां लगी है। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुची तो देखा कि वहां लोगों का हुजूम लग गया था। एक पकड़े में लिपटी नवजात जिंदगी और मौत के बीच झूल रही थी। एफआरवी  ने 108 को सूचना दी। ईएमटी राजेन्द्र देशमुख और चालक राजेश यादव नवजात को लेकर मझगवां पीएचसी पहुचे। वहां से नवजात को सिहोरा हॉस्पिटल भेज दिया गया। जहां डॉ. सुनील लटियार, डॉ. हेमा बिसेन ने नवजात का इलाज शुरू किया।


 
सिर के पिछले हिस्से में लग गए थे कीड़े : डॉक्टर ने बताता कि नवजात करीब 16 घण्टे की होगी। झाड़ियों में पड़े होने से उसके सिर के पिछले हिस्से में कीड़े लग गया थे। वही बच्ची कमजोर हो गई थी। फिलहाल बच्ची का इलाज चल रहा है।