खुशखबरी : Corona वैक्सीन की दवाई  भारत को देगा रूस

खुशखबरी : Corona वैक्सीन की दवाई  भारत को देगा रूस

खुशखबरी : Corona वैक्सीन की दवाई  भारत को देगा रूस


कोरोना के रोकथाम को रोकने के लिए भारत के  लिए ये अच्छी खबर है। रूस Corona वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक भारत को देने के लिए तैयार हो गया है। रूस की Sputnik-V वैक्सीन  तैयार करने वाले रशियन डायरेट इनवेस्टमेंट फंड (RDIF) और भारत की दवा कंपनी डॉ. रेड्डीज लैब के बीच इस वैसीन को लेकर समझौता हुआ है।

Sputnik-V वैक्सीन के सफल होने का ऐलान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को किया था। हालांकि, तब तक सिर्फ फेज-1 और फेज-2 ट्रायल ही पूरे हुए थे। 26 अगस्त को वैसीन के तीसरे फेज का ट्रायल शुरू किया गया जो फिलहाल जारी है। फेज-3 ट्रायल में करीब 40 हजार लोग हिस्सा ले रहे हैं।

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, रशियन डायरेट इनवेस्टमेंट फंड ने भारतीय कंपनी के साथ कुल 30 करोड़ वैसीन की खुराक के उत्पादन का करार किया है। डॉ. रेड्डीज लैब अब भारत में इस वैसीन का फेज-3 ट्रायल शुरू करेगी। अगर वैसीन के फेज-3 ट्रायल के रिजल्ट अच्छे रहते हैं तो नवंबर तक वैसीन भारत में उपलब्ध हो सकती है।


बता दें कि कोरोना वायरस वैसीन को लाइसेंस देने वाला रूस दुनिया का पहला देश है। हालांकि, बिना फेज-3 ट्रायल के वैसीन को मंजूरी देने की वजह से दुनिया के कई एसपर्ट्स ने रूस की आलोचना भी की थी। भारत में रूसी वैसीन की कीमत कितनी होगी, फिलहाल इसका फैसला नहीं किया गया है, लेकिन RDIF ने कुछ वत पहले कहा था कि उसका उद्देश्य वैसीन से लाभ कमाना नहीं है। RDIF ने पहले ही कजाकिस्तान, ब्राजील और मैसिको के साथ वैसीन की सप्लाई का समझौता किया है। सऊदी केमिकल कंपनी के साथ भी RDIF ने एक करार किया है.