कांग्रेस छोड़कर BJP में शामिल होने का राहुल सिंह लोधी को मिला ईनाम, सरकार ने सौंपी ये अहम ज़िम्मेदारी, राजनीति गर्माने के आसार

कांग्रेस छोड़कर BJP में शामिल होने का राहुल सिंह लोधी को मिला ईनाम, सरकार ने सौंपी ये अहम ज़िम्मेदारी, राजनीति गर्माने के आसार

मध्यप्रदेश/दमोह - दमोह के कांग्रेस विधायक रहे राहुल सिंह लोधी ने उप चुनाव की वोटिंग से 8 दिन पहले पार्टी छोड़ दी थी। उन्होंने प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा को सुबह इस्तीफा सौंपा और इसके 1 घंटे बाद ही भाजपा में शामिल हो गए थे। भाजपा में शामिल होने के लंबे इंतज़ार के बाद राहुल सिंह लोधी को प्रदेश सरकार ने तोहफा दिया हैं। अब करीब ढाई माह के बाद उन्हें मध्य प्रदेश वेयरहाउस कॉरपोरेशन एवं लॉजिस्टिक का निगम अध्यक्ष बनाया गया हैं। 

दरअसल, राहुल सिंह के इस्तीफे के बाद ये अटकलें लगाई जा रहीं थी कि राहुल सिंह को बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती हैं। जिसके बाद उन्हें सरकार ने बड़ी ज़िम्मेदारी सौंपी हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक राहुल सिंह लोधी को ऐसे ही किसी पद का इंतजार था। अब उन्हें निगम अध्यक्ष बनाए जाने के बाद उनकी दमोह में आने की संभावना बढ़ गई है क्योंकि आगामी दिनों में दमोह विधानसभा सीट पर उपचुनाव भी होना हैं। 

वहीं, दमोह में होने वाले उपचुनाव को लेकर भी इसे देखा जा रहा हैं। 

गौरतलब है कि दमोह विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए भाजपा ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। भाजपा ने इस सीट की जिम्मेदारी शिवराज सिंह चौहान के करीबी और भरोसेमंद भूपेन्द्र सिंह को सौंपी गई हैं। इससे पहले भूपेन्द्र सिंह सुरखी विधानसभा सीट में भी भाजपा की जीत के रणनीतिकार थे।

बता दे कि करीब ढाई माह से राहुल सिंह लोधी के दमोह नहीं आने के चलते चर्चाओं का बाजार गर्म होते होते ठंड के मौसम में ठंडा भी पड़ गया था। इधर कड़ाके की ठंड में उन्हें निगम अध्यक्ष का तोहफा दिए जाने के बाद फिर राजनीति गर्माने के आसार नजर आने लगे हैं।