सोनिया गाँधी 12 को सिंधिया – कमलनाथ से दिल्ली में करेंगी चर्चा

सोनिया गाँधी 12 को सिंधिया – कमलनाथ से दिल्ली में करेंगी चर्चा

क्या इस मुलाकात से मिल सकता है मप्र को नया प्रदेश अध्यक्ष ?

 

  • कमलनाथ व सिंधिया को बुलाया गया दिल्ली

  • मध्यप्रदेश में प्रदेश अध्यक्ष को लेकर ”एक अनार सौ बीमार” स्थिति कांग्रेस पार्टी में है

  • नया प्रदेश अध्यक्ष बनाने से पहले मिलना चाहती है सोनिया

भोपाल :मध्यप्रदेश के कांग्रेस पार्टी में प्रदेश अध्यक्ष को लेकर प्रदेश में घमासान मचा हुआ है । कांग्रेस के हाईकमान सोनिया सोनिया गाँधी ने सिंधिया और कमलनाथ को दिल्ली बुलाया गया है। 12 सितम्बर को दिल्ली में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ व सिंधिया के साथ कांग्रेस के अध्यक्षा सोनिया गाँधी मुलाकात करने की संभावना चल रहा है और साथ में प्रदेश अध्यक्ष को लेकर गंभीर चर्चा भी हो सकता है। साथ में दिग्विजय व उमंग सिंघार के बीच विवाद का भी स्पष्टीकरण होने की आशंका है।

कमलनाथ व सिंधिया को बुलाया गया दिल्ली

मध्यप्रदेश के कांग्रेस पार्टी में काफी दिनों से पीसीसी को लेकर पार्टी के नेता व समर्थक आपस में टकराव रहे है। जिसमे पहले ही मप्र के कांग्रेस पार्टी के मुख्यमंत्री कमलनाथ पीसीसी को लेकर सोनिया गाँधी से मुलाकात कर चुके थे ,पीसीसी निर्णय को आगे ले जाया गया था। कांग्रेस पार्टी के अध्यक्षा सोनिया गाँधी ने कमलनाथ और सिंधिया को 12 सितम्बर दिल्ली बुलवाया है। मिली जानकारी के अनुसार सोनिया गांधी के साथ कमलनाथ व सिंधिया मुलाकात करेंगे प्रदेश अध्यक्ष को लेकर इन लोगो से परामर्श करेंगी। संभव है की इन लोगो से मिलने के बाद प्रदेश अध्यक्ष का बनाने का निर्णय कर पाएंगी।

 

प्रदेश अध्यक्ष को लेकर ”एक अनार सौ बीमार” स्थिति कांग्रेस पार्टी में है

मध्यप्रदेश में प्रदेश अध्यक्ष को लेकर प्रदेश के दिग्गज नेताओं के अलग -अलग विचार है , प्रदेश अध्यक्ष के अनेक दावेदारी पेश है। प्रदेश में एक अध्यक्ष होंगे लेकिन दावेदारी बहुत , इनको अगर ”एक अनार सौ बीमार” कहा जाये तो इसमें कोई गलत नहीं है। प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की विचार को देखा जाये तो आदिवासी प्रत्यासी को बांया जाये। वही ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक चाहते है प्रदेश अध्यक्ष सिंधिया बने। दिग्विजय सिंह का अलग प्रत्यासी(अजय राहुल भैया ) है। ऐसे अनेक प्रत्यासी है जो दावेदारियां पेश कर रहे है।